Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

फोन टैपिंग मामला : विधायकों की तलाश में मानेसी पहुंची एसओजी की टीम को होटल में नहीं मिला प्रवेश

राजस्थान में सियासी संकट की बीच शह और मात का खेल जारी है। एक तरफ जहां मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट के बीच दीवार खिंच गई है वहीं दूसरी तरफ एसओजी भी अलर्ट मोड में नजर आ रही है। फोन टैपिंग मामले में राजस्थान एसओजी 3 दिन से सचिन पायलट ग्रुप के विधायकों को दिल्ली और हरियाणा में तलाश रही है।

फोन टैपिंग मामला : विधायकों की तलाश में मानेसी पहुंची एसओजी की टीम को होटल में नहीं मिला प्रवेश
X
एसओजी

जयपुर। राजस्थान में सियासी संकट की बीच शह और मात का खेल जारी है। एक तरफ जहां मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट के बीच दीवार खिंच गई है वहीं दूसरी तरफ एसओजी भी अलर्ट मोड में नजर आ रही है। फोन टैपिंग मामले में राजस्थान एसओजी 3 दिन से सचिन पायलट ग्रुप के विधायकों को दिल्ली और हरियाणा में तलाश रही है। रविवार रात तक एक भी विधायक से एसओजी टीम का संपर्क नहीं हो सका। टीम शुक्रवार को हरियाणा और दिल्ली पहुंची तब से इन विधायकों से संपर्क करने का प्रयास कर रही है। एसओजी को इनके बयान और आवाज के नमूने लेने हैं।

वहीं विधायकों से पूछताछ करने एसओजी की टीम दिल्ली से रविवार देर रात मानेसर पहुंची, लेकिन एसओजी की टीम को होटल में प्रवेश नहीं करने दिया गया। विधायक भंवरलाल शर्मा के वहां होने की सूचना पर टीम पहुंची तो होटल के गेट पर ताला लगा था। आइपीएस विकास शर्मा ने गेट खोलने को कहा तो होटल कर्मियों ने बताया कि होटल में विदेश से आए कोरोना मरीज हैं। होटल का गेट अब सुबह ही खुलेगा, सुबह ही आएं। होटल के नजदीक हरियाणा पुलिस भी तैनात थी।

एसओजी ने गेट खुलवाने के लिए कुछ देर तक तो प्रयास किया, फिर विवाद की आशंका में सुबह तक इंतजार करने का निर्णय लिया। गौरतलब है कि इससे पहले शुक्रवार रात हरियाणा पुलिस ने एसओजी को होटल में डेढ़ घंटे तक प्रवेश नहीं करने दिया था।

Next Story