Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मंदिर के ताले तोड़कर चुराई 500 साल पुरानी प्रतिमाएं, नकदी पर भी किया हाथ साफ

चारों ने श्री दिगम्बर जैन मंदिर पाश्र्वनाथ (बोहरा जी) के ताले तोड़कर करीबन 500 साल पुरानी प्रतिमाओं सहित नकदी चुराकर ले गए। इस दौरान चोरों ने मंदिर के पुजारी और वहां आवासरत आर्यिका सुविश्वास मति माताजी के कमरों के भी बाहर से कुंडी लगाकर बंद कर दिया।

मंदिर के ताले तोड़कर चुराई 500 साल पुरानी प्रतिमाएं, नकदी पर भी किया हाथ साफ
X

मंदिर के ताले तोड़कर चुराई 500 साल पुरानी प्रतिमाएं

जयपुर। राजस्थान के ट्रांसपोर्ट नगर थाना इलाके में चोरों ने सारी हदें पार करते हुए मंदिर में ही हाथ साफ कर लिया। चारों ने श्री दिगम्बर जैन मंदिर पाश्र्वनाथ (बोहरा जी) के ताले तोड़कर करीबन 500 साल पुरानी प्रतिमाओं सहित नकदी चुराकर ले गए। इस दौरान चोरों ने मंदिर के पुजारी और वहां आवासरत आर्यिका सुविश्वास मति माताजी के कमरों के भी बाहर से कुंडी लगाकर बंद कर दिया। चारे 500 साल पुरानी मुर्तिया समेत नकदी चोरी कर ले गए। पुलिस ने मामला दर्ज कर चोरों की तलाश शुरु कर दी है। पुलिस ने बताया चोर 31 जनवरी की रात मंदिर के मुख्य द्वारा के ताले तोड़कर अंदर घुसे। इसके बाद चोरों ने यहां से पांच मुर्तिया मुख्य वेदी से, भामण्डल तीन नग, चांदी का छत्र करीब दो किलो, एक लकड़ी के बॉक्स में रखी करीब 23 प्राचीन प्रतिमाएं और दान पात्र से करीब 60 से 70 हजार नकद चुराकर फरार हो गए।

पुजारी के कमरे को बाहर से किया बंद

चोरों ने मंदिर में ताले तोड़ने के साथ ही पुजारी के कमरे के बाहर से कुंडी लगा दी। इसी के साथ मंदिर में ही आवास रत आर्यिका सुविश्वास मति माताजी के कमरे के भी बाहर से कुंडी लगा दी। आर्यिका श्री को प्रात: उठने बाहर से कुंडी लगी होने का पता। इसके बाद पुजारी को आवाज लगाई और पुजारी ने उठकर देखा तो उसके कमरे के भी कुंडी लगी हुई थी। और उसने गेट तोड़कर बाहर निकल कर देखा तो सभी ताले टूटे हुए पड़े थे। इसके बाद मंदिर कमेटी को सूचित किया गया। मंदिर के अध्यक्ष टोंक रोड निवासी प्रकाश गंगवाल ने पुलिस थाने में रिपोर्ट दी है।

Next Story