Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कुछ अलग अंदाज में जन्मदिन मनाएंगे सचिन पायलट, सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों से करेंगे संवाद

आज राज्य के पूर्व डिप्टी सीएम का जन्मदिन है। इस बार सचिन पायलट ने कुछ अलग अंदाज में अपना जन्मदिन मनाने का फैसला किया है। अपने जन्मदिन के अवसर पर सचिन पायलट सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों से लाइव चैट करेंगे।

कुछ अलग अंदाज में जन्मदिन मनाएंगे सचिन पायलट, सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों से करेंगे संवाद
X
सचिन पायलट का जन्मदिन

जयपुर। राजस्थान में पिछले कुछ समय पहले राजनीतिक संकट गरमाया हुआ था। इस संकट की वजह थी सचिन पायलट और उनके गुट के विधायकों के प्रदेश सरकार के बागी तेवर। हालांकि अब यह संकट शांत हो गया है। सचिन पायलट ने कांग्रेस में वापसी कर ली है। वैसे तो लगता है कि सचिन पायलट और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की बीच विवाद खत्म हो गया है लेकिन अभी भी कहीं न कहीं दिलों में खटास है जो धीरे धीरे ही खत्म होगी। इसी बीच आज राज्य के पूर्व डिप्टी सीएम का जन्मदिन है। इस बार सचिन पायलट ने कुछ अलग अंदाज में अपना जन्मदिन मनाने का फैसला किया है। अपने जन्मदिन के अवसर पर सचिन पायलट सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों से लाइव चैट करेंगे। उन्होंने लोगों से कहा कि लाइव सेशन से जुड़ने के लिए मेरे सोशल साइट ट्विटर प्लेटफॉर्म से जुड़ें।

सचिन पायलट ने इस संबंध में सभी सोशल प्लेटफॉर्म पर एक विज्ञापन भी जारी किया है। जिसपर उन्होंने लिखा है, 'मेरे 43वें जन्मदिवस पर दिनांक-सात सितंबर 2020 सोमवार समय- दोपहर दो बजे से सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के माध्यम से आप लोगों के बीच उपस्थित रहूंगा। लाइव सेशन से जुड़ने के लिए मेरे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से जुड़ें।

जाहिर है सचिन पायलट कांग्रेस में वापस तो आ गए हैं, लेकिन उनके समर्थक काफी नाराज दिख रहे हैं। पिछले महीने राजस्थान के नए प्रभारी महासचिव अजय माकन जब 30 अगस्त को जयपुर आने वाले थे मुख्यमंत्री गहलोत और सचिन पायलट के समर्थकों ने उनके स्वागत में पोस्टर लगाए थे। अजय माकन तो सभी पोस्टर्स में थे, लेकिन गहलोत समर्थकों के पोस्टर में पायलट नहीं दिख रहे थे और पायलट समर्थकों के पोस्टर से गहलोत नदारद थे। इससे साफ समझा जा सकता है कि राजस्थान में सियासी तूफान भले ही थम गया हो लेकिन खत्म नहीं हुआ है। राजस्थान कांग्रेस में चल रहे सियासी संग्राम के बीच कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पिछले महीने तीन सदस्यीय कमेटी घोषित करने के साथ राज्य के प्रभारी पद से अविनाश पांडे को हटाकर अजय माकन को जिम्मेदारी सौंपी थी।


Next Story