Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

किसान महापंचायत में शक्ति प्रदर्शन को तैयार सचिन पायलट, अशोक गहलोत गुट और भाजपा को देंगे जवाब

पायलट गुट प्रदेश में शक्ति प्रदर्शन के लिए पूरी तरह से तैयार है। सचिन पायलट और उनके समर्थक विधायक अब प्रदेश में किसान सम्मेलनों और चक्का जाम के जरिए शक्ति प्रदर्शन करने की तैयारी में हैं। इनके जरिए वे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत गुट और भाजपा को जवाब देंगे।

किसान महापंचायत में शक्ति प्रदर्शन को तैयार सचिन पायलट, अशोक गहलोत गुट और भाजपा को देंगे जवाब
X

किसान महापंचायत में शक्ति प्रदर्शन को तैयार सचिन पायलट

भरतपुर। राजस्थान में इस समय राजनीतिक पारा चढ़ा हुआ है। नए कृषि विधेयकों के खिलाफ किसानों के प्रदर्शन की आड़ में राजनीतिक गलियारे में हलचल तेज है। राजस्थान के पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट (Sachin Pilot) ने किसान सम्मेलनों के जरिए मोर्चा संभाल लिया है। पायलट गुट प्रदेश में शक्ति प्रदर्शन के लिए पूरी तरह से तैयार है। सचिन पायलट और उनके समर्थक विधायक अब प्रदेश में किसान सम्मेलनों और चक्का जाम के जरिए शक्ति प्रदर्शन करने की तैयारी में हैं। इनके जरिए वे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत गुट और भाजपा को जवाब देंगे। साथ ही वह केंद्र सरकार के किसान विरोधी कानूनों पर भी जमकर हल्ला बोलने के लिए तैयार हैं। भरतपुर की डीग तहसील के बहज गांव में आज यानि शनिवार को पूर्व मंत्री विश्वेंद्र सिंह के नेतृत्व में किसान महापंचायत की जा रही है। इसमें पूर्व पीसीसी चीफ सचिन पायलट और कांग्रेस जिला प्रभारी वेद प्रकाश सोलंकी भी आएंगे।

शुक्रवार को दौसा में हुई महापंचायत में लिया था हिस्सा

शुक्रवार को पायलट दौसा में हुई किसान महापंचायत में भाग ले चुके हैं, वहां उनके गुट विधायक भी बड़ी संख्या में पहुंचे थे। इसके बाद 9 फरवरी को बयाना में भी किसान सम्मेलन होगा। इसमें भी सचिन पायलट का आना तय माना जा रहा है। डीग-कुम्हेर विधायक विश्वेंद्र सिंह और बयाना विधायक अमर सिंह को पायलट का सबसे करीबी माना जाता है। चर्चा इस बात की हो रही है कि प्रदेश प्रभारी अजय माकन द्वारा घोषित डेडलाइन 31 जनवरी तक राजनीतिक नियुक्तियां और मंत्रिमंडल विस्तार हो जाएगा। लेकिन, अब इसे बजट सत्र के नाम पर टाल दिया गया है, इसलिए पायलट खेमा एक बार फिर से सियासी बिसात बिछाने में जुट गया है।

क्या है पूरा कार्यक्रम

पूर्व मुख्यमंत्री सचिन पायलट 17 फरवरी को विधायक वेदप्रकाश सोलंकी के क्षेत्र चाकसू में भी जाएंगे। इधर, डांग इलाके के जैसोरा गांव स्थित फतेह सागर ताल पर 9 फरवरी को दोपहर 12 बजे किसान महापंचायत होगी। इसमें पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट भी आएंगे। प्रदेश कांग्रेस की ओर से महीने भर पहले किसान आंदोलन के समर्थन में सभी विधायकों को गांवों में जाकर किसान संवाद कार्यक्रम करने को कहा था, लेकिन पायलट समर्थक विधायकों ने इसमें खास रुचि नहीं दिखाई थी। लेकिन अब पायलट का खेमा किसान आंदोलन के बहाने सक्रिय हो गया है।

Next Story