Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राजस्थान में आज कृषि कानूनों के खिलाफ होंगी दो किसान सभाएं, केंद्र सरकार के खिलाफ ये योजना बनाने जा रहे राकेश टिकैत

राजस्थान में किसानों की एकजुटता बढ़ती जा रही है। इसी बीच किसानों ने अपने आंदोलन में उग्रता लाने के लिए संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा तिथि वार आंदोलन की तैयारियां कर देश व्यापी आंदोलन की रूपरेखा का ऐलान किया है।

राजस्थान में आज कृषि कानूनों के खिलाफ होंगी दो किसान सभाएं, केंद्र सरकार के खिलाफ ये योजना बनाने जा रहे राकेश टिकैत
X

राकेश टिकैत महापंचायत

अलवर। देश में केंद्र सरकार द्वारा लाए गए नए कृषि कानूनों (Agricultural Bills) को लेकर मामला अभी शांत नहीं हुआ है। अभी किसान इन विधेयकों के खिलाफ अपनी मांगों पर अड़े हैं और केंद्र सरकार के साथ उनकी वार्ता का रुख अभी साफ होता नहीं दिख रहा है। दिल्ली व उससे सटे बॉर्डरों पर किसानों की हलचल तो तेज है। साथ ही राजस्थान में किसानों की एकजुटता बढ़ती जा रही है। इसी बीच किसानों ने अपने आंदोलन में उग्रता लाने के लिए संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा तिथि वार आंदोलन की तैयारियां कर देशव्यापी आंदोलन की रूपरेखा का ऐलान किया है। साथ ही शाहजहांपुर - खेडा बॉर्डर पर आयोजित किसान सभा में अलवर जिले के हरसौली व बानसूर मे होने वाली किसान महापंचायत (Kisan Mahapanchayat) के आयोजन में अधिकाधिक किसानों की भागीदारी बढ़ाने के लिए की तैयारियों पर दिनभर योजनाएं बनाई गई।

ये नेता रहेंगे मौजूद

भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश महासचिव बलबीर सिंह छिल्लर ने बताया कि आज शुक्रवार को हरसौली मे 12 बजे व बानसूर में 1 बजे किसान महापंचायत का आयोजन होगा। दोनों किसान सभाओं में किसान नेता राकेश टिकैत, योगेन्द्र यादव, युद्धवीर चौधरी, राजाराम मील सहित स्थानीय जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति मे किसान महापंचायत का आयोजन होगा।

ये है रणनीति

हरसौली और बानसूर में किसान महापंचायत के लिए किसानों से संपर्क साधा गया है। राकेश टिकैत का सभा समय से कुछ देरी से आने की सम्भावना है। संयुक्त किसान मोर्चा की आम सभा मे लिए गये निर्णय के मुताबिक पूर्व विधायक पवन दुग्गल ने बताया कि 5 अप्रेल को एफसीआई बचाओ दिवस मनाया जायेगा, 10 अप्रेल को 24 घण्टे केएमपी ब्लॉक करने का निर्णय लिया गया।

Next Story