Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राजस्थान सियासी संकट खत्म : सूरजेवाला बोले- नेता व विधायक कड़वाहट भूल प्रदेश की तरक्की के लिए आगे आएं

कांग्रेस ने भी कांग्रेस ने राजस्थान के सियासी संकट के पटाक्षेप के बाद मंगलवार को कहा कि अब सभी नेता एवं विधायक कड़वाहट भूलकर प्रदेश की तरक्की के लिए काम करेंगे। पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने यह दावा भी किया कि सरकार गिराने का प्रयास कर रही भाजपा को करारा जवाब मिला है।

राजस्थान सियासी संकट खत्म : सूरजेवाला बोले- नेता व विधायक कड़वाहट भूल प्रदेश की तरक्की के लिए आगे आएं
X
सुरजेवाला

लंबे समय से चल रहा राजस्थान राजनीतिक संकट आखिरकार खत्म हो ही गया। पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट के कांग्रेस आलाकमान से मुलाकात के बाद स्थिति नियंत्रण में आ गई है। वहीं पायलट ने भी मुलाकात के बाद कहा कि उन्हें पद को लेकर कोई लालसा नहीं थी बस कुछ मतभेद थे जो जल्द हो जाएंगे और जो समस्याएं हैं उन्हें भी हल किया जाना चाहिए।

वहीं कांग्रेस ने भी कांग्रेस ने राजस्थान के सियासी संकट के पटाक्षेप के बाद मंगलवार को कहा कि अब सभी नेता एवं विधायक कड़वाहट भूलकर प्रदेश की तरक्की के लिए काम करेंगे। पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने यह दावा भी किया कि सरकार गिराने का प्रयास कर रही भाजपा को करारा जवाब मिला है।

उन्होंने ट्वीट किया कि राजस्थान के राजनीतिक घटनाक्रम के पटाक्षेप पर आठ करोड़ प्रदेशवासियों को बधाई। राहुल गांधी की दूरदृष्टि व सबको साथ लेकर चलने का संकल्प और प्रियंका गांधी का सहयोग रंग लाया।

अशोक गहलोत की परिपक्वता और सचिन पायलट के विश्वास व निष्ठा ने हल निकाला। सुरजेवाला ने कहा कि ये राजस्थान के तरक़्क़ी पथ पर चलने की जीत है। ये भाजपा को करारा जबाब है जो अल्पमत में हो कर व जनता से दरकिनार किए जाने के बावजूद सरकार बनाने के सपने देख रहे थे। ये वही हैं जो सब हथकंडे अपनाने के बाद भी भाजपा विधायक दल की बैठक तक नही बुला पाए व आख़िर में बाड़ेबंदी करनी पड़ी।

उन्होंने कहा कि अब सब गिले-शिकवे और कड़वाहट भुला सभी विधायक व कांग्रेस के साथी शक्तिशाली, शांतिप्रिय व तरक़्क़ीपसंद राजस्थान के लिए काम करेंगे। यही वीरभूमि राजस्थान का ध्येय व कर्म है।

गौरतलब है कि राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के साथ सचिन पायलट की मुलाकात के बाद राजस्थान का सियासी संकट खत्म हो गया। पायलट और उनके समर्थक विधायकों के मुद्दों के समाधान के लिए पार्टी ने तीन सदस्यीय समिति गठित करने का फैसला किया है।

Next Story