Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Rajasthan Mausam ki Jankari : जयपुर सहित इन जगहों पर छाए बादल, कल फिर हो सकती है बारिश

राजस्थान में कई जगहों पर मौसम ने फिर से करवट ली है। आज यानी बुधवार की सुबह जयपुर, अलवर, भरतपुर, दौसा, सीकर क्षेत्र में बादलों की आवाजही बनी हुई है। मौसम विभाग जयपुर केंद्र के अधिकारियों ने अनुमान जताया है कि आज और कल कई जगह झमाझम बारिश हो सकती है।

Rajasthan Mausam ki Jankari : जयपुर सहित इन जगहों पर छाए बादल, कल फिर हो सकती है बारिश
X

राजस्थान मौसम की जानकारी

जयपुर। उत्तर भारत में सक्रिय होते पश्चिमी विक्षोभ का प्रभाव राजस्थान के मौसम (Rajasthan Weather) में लगातार देखने को मिल रहा है। राजस्थान में कई जगहों पर मौसम ने फिर से करवट ली है। आज यानी बुधवार की सुबह जयपुर, अलवर, भरतपुर, दौसा, सीकर क्षेत्र में बादलों की आवाजही बनी हुई है। मौसम विभाग जयपुर केंद्र के अधिकारियों ने अनुमान जताया है कि आज और कल कई जगह झमाझम बारिश (raining) हो सकती है। ऐसे में यहां ठंडी हवाओं से मौसम खुशगवार होने की उम्मीद की जा रही है। इसमें भरतपुर, जयपुर के साथ कोटा संभाग के कुछ इलाकों में बारिश होने के पूरे आसार हैं।

यहां बारिश की संभावना

मौसम विभाग ने 10 मार्च को पश्चिमी राजस्थान के बीकानेर संभाग, 11 मार्च को पूर्वी राजस्थान के जयपुर-अजमेर-भरतपुर संभाग व पश्चिमी राजस्थान के बीकानेर संभाग में बारिश व ओलावृष्टि की संभावना जताई है। वहीं 12 मार्च को अजमेर, जयपुर, कोटा, बूंदी, चित्तौडग़ढ़, अलवर, भरतपुर, धौलपुर, झुंझुनूं, करौली, सीकर, टोंक, उदयपुर, राजसमंद, सिरोही, चूरू, गंगानगर, नागौर जिले में ओलावृष्टि व बारिश की संभावना है।

ओलों की चादर बिछी

चूरू क्षेत्र में शाम चार बजे बरसात के साथ चने के आकार के ओले गिरे। घर की छतों पर ओलों की चादर बिछ गई। झुंझुनूं में भी अंधड़ चलने के बाद बिजली की तेज गर्जना के साथ शुरू बूंदाबांदी हुई। कुछ देर बाद ओले गिरने लगे। पिलानी क्षेत्र के 12 से अधिक गांवों में ओले गिरे। अलवर जिले में दिन भर तेज गर्मी के बाद शाम को बरसात से राहत मिली। जिले में बुर्जा सहित अन्य कई स्थानों पर ओले भी गिरे हैं।

बेमौसम बरसात से फसलों को हुआ काफी नुकसान

बेमौसम बरसात से किसानों की चिंता बढ़ गई। अंधड़ और बरसात के साथ ओलावृष्टि से खेतों में रबी फसलों को नुकसान पहुंचा। सबसे ज्यादा नुकसान गेहूं व चने में माना जा रहा है। बारिश व ओलावृष्टि से खेत में खड़ी सरसों की फलियां टूटकर गिरने की आशंका है।


Next Story