Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Rajasthan Mausam ki Jankari : राजस्थान में सर्दी का माइनस थर्ड डिग्री सितम जारी, जन जीवन पूरी तरह से प्रभावित

राजस्थान में कड़ाके की ठंड का कहर अपने चरम पर पहुंच गया है। राज्य के कई इलाकों में इस कदर सर्द हवाएं चल रही हैं जिससे लोग ठिठुरने पर मजबूर हो गए हैं। खासकर राजस्थान के शेखावाटी इलाके में सर्दी का माइनस थर्ड डिग्री सितम लगातार दूसरे दिन भी जारी है।

Rajasthan Mausam ki Jankari : राजस्थान में सर्दी का माइनस थर्ड डिग्री सितम जारी, जड़ से लेकर जन जीवन पूरी तरह से प्रभावित
X

राजस्थान मौसम की जानकारी

सीकर। राजस्थान में कड़ाके की ठंड का कहर अपने चरम पर पहुंच गया है। राज्य के कई इलाकों में इस कदर सर्द हवाएं चल रही हैं जिससे लोग ठिठुरने पर मजबूर हो गए हैं। खासकर राजस्थान के शेखावाटी इलाके में सर्दी का माइनस थर्ड डिग्री सितम लगातार दूसरे दिन भी जारी है। अंचल के फतेहपुर कृषि अनुसंधान केंद्र में बुधवार को न्यूनतम तापमान माइनस तीन डिग्री दर्ज हुआ है। जो मंगलवार के न्यूनतम तापमान माइनस 3.2 डिग्री से महज .2 डिग्री ही कम रहा। ऊपर से अंचल के ज्यादातर इलाकों में घना कोहरा भी छाया रहा। ऐसे में जमा देने वाले जाड़े के बीच आज भी जड़ से लेकर जन जीवन तक पूरी तरह प्रभावित रहा।

पानी के पात्रों में जमी बर्फ की मोटी चादर

जमाव बिंदू से नीचे रहे पारे से पेड़- पौधों, फसलों, खेतों की बाड़, वाहनों के शीशों व सीट पर ओस व सिंचाई के पानी की बूंदों ने बर्फ का रूप ले लिया। पक्षियों के लिए रखे पानी के पात्रों में बर्फ की मोटी चादर जम गई। नलों से टपकती बूंदे भी बर्फ की लड़ियों के रूप में नजर आई। ठंड के इस सितम का सर्द हवाओं ने भी साथ दिया। जो सूर्योदय के बाद भी नश्तर सी चुभ रही है। सर्दी से बचने के लिए रजाई से लेकर हीटर व अलाव तके के सारे जतन भी बेअसर से रहे।

घने कोहरे ने बढ़ाई परेशानी

राजस्थान के कई इलाकों में घने कोहरे ने लोगों की परेशानियों में इजाफा कर दिया। कोहरा ऐसा कि दूर से दूर तक कुछ न दिखे। कोहरे ने दृश्यता को प्रभावित रखा। कोहरे की वजह से सुबह करीब आठ बजे तक ग्रामीण इलाकों में चंद मीटर दूरी पर भी देखना भी दूभर रहा। सूर्योदय के बाद धूप में तेजी के साथ दृश्यता वापस लौटना शुरू हुई।

अभी और सितम ढाएगी सर्दी

इधर, मौसम विभाग के अनुसार शेखावाटी सहित प्रदेश के कई इलाकों में ठंड का असर जारी रहेगा। जिसमें तापमान जमाव बिंदू के पास रहने के साथ शीत लहर का जोर भी बना रहेगा। स्काईमेट वेदर रिपोर्ट के अनुसार शेखावाटी में पाले की पूरी आशंका बनी हुई है।

Next Story