Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Rajasthan Mausam ki Jankari : न्यूनतम तापमान में मामूली बढ़ोतरी, अभी छाया रहेगा कोहरा, शेखावाटी इलाकों में सर्दी से बुरा हाल

राजस्थान में सर्दी का सितम जारी है। खासकर शेखावाटी इलाकों में सर्दी ने कहर ढाया हुआ है। वहीं मंगलवार की रात के न्यनूतम तापमान में मामूली बढोतरी दर्ज हुई है। मौसम विभाग ने बुधवार को यह जानकारी दी।

Rajasthan Mausam ki Jankari : न्यूनतम तापमान में मामूली बढ़ोतरी, अभी छाया रहेगा कोहरा, शेखावाटी इलाकों में सर्दी से बुरा हाल
X

राजस्थान मौसम की जानकारी

जयपुर। राजस्थान में सर्दी का सितम जारी है। खासकर शेखावाटी इलाकों में सर्दी ने कहर ढाया हुआ है। वहीं मंगलवार की रात के न्यनूतम तापमान में मामूली बढोतरी दर्ज हुई है। मौसम विभाग ने बुधवार को यह जानकारी दी। विभाग ने राज्य के अनेक इलाकों में अभी कोहरा छाए रहने का अनुमान व्यक्त किया है। मौसम विभाग के अनुसार बीते चौबीस घंटे में राज्य के अनेक इलाकों में रात के न्यनूतम तापमान में बढ़ोतरी दर्ज की गयी। बीती मंगलवार रात पिलानी में न्यूनतम तापमान 4.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। इसके अलावा न्यनूतम तापमान जैसलमेर में 6.4 डिग्री सेल्सियस, बीकानेर में 6.4 डिग्री सेल्सियस, सीकर व गंगानगर में 6.5 डिग्री सेल्सियस व फलौदी में 7.4 डिग्री दर्ज सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विभाग के अनुसार बीते चौबीस घंटे में गंगानगर में अधिकतम तापमान भी 12.4 डिग्री रहा जो सबसे कम है।

क्यों बढ़ी इतनी ठंड

मौसम विभाग के अनुसार उत्तरी भारत में बर्फीली हवाओं के रूख, हिमपात के कारण रात का तापमान नहीं बढ़ रहा है। अगले सप्ताह से मौसम में थोड़ी गर्माहट आने के आसार रहेंगे। मौसम विभाग जयपुर केंद्र के प्रभारी आरएस शर्मा ने बताया कि अरब सागर से आ रही नमी के चलते उत्तरी हवा में थोड़ा बदलाव हुआ है। अब उत्तरी-पश्चिमी हवा चल रही है। 20 जनवरी से नया पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हो रहा है।

आगामी दो हफ्ते बढ़ेगी सर्दी

22 से 25 जनवरी के बीच उत्तर भारत के पहाड़ों पर बर्फबारी और मैदानी इलाकों में कुछ स्थानों पर वर्षा होने की संभावना है। ऐसे में आगामी दो सप्ताह भी ठंड का असर जारी रह सकता है। अरब सागर से आ रही नमी के चलते रात के तापमान में मामूली बढ़त होगी। रात के तापमान में अगले सप्ताह से तीन डिग्री तक का इजाफा देखने को मिल सकता है। 22-23 जनवरी को हवाओं का रुख बदलेगा जिससे तापमान में हल्की वृद्धि दर्ज की जाएगी तथा शीतलहर से कुछ राहत मिल सकती है।

Next Story