Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राजस्थान सरकार की पहल- मिलावटखोरी के खिलाफ 26 अक्तूबर से चलाया जाएगा अभियान

राजस्थान सरकार ने मिलावट करनेवाले लोगों के खिलाफ एक अभियान चलाने की पहल की है। खाद्य पदार्थों में मिलावट जरूरत से ज्यादा ही की जा रही है। जिसका असर लोगों के स्वास्थ्य पड़ता है।

राजस्थान सरकार की पहल- मिलावटखोरी के खिलाफ 26 अक्तूबर से चलाया जाएगा अभियान
X

राजस्थान सरकार 

जयपुर। राजस्थान सरकार ने मिलावट करनेवाले लोगों के खिलाफ एक अभियान चलाने की पहल की है। खाद्य पदार्थों में मिलावट जरूरत से ज्यादा ही की जा रही है। जिसका असर लोगों के स्वास्थ्य पड़ता है। इसी को देखते हुए राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि खाद्य पदार्थों में मिलावट कर जनता की सेहत से खिलवाड़ करने वालों के खिलाफ राज्य सरकार विशेष अभियान चलाकर सख्त कार्रवाई करेगी। उन्होंने कहा कि राजस्थान मिलावटखोरी से मुक्ति की दिशा में एक अलग पहचान बनाएगा। उन्होंने कहा कि दूध, दूध से बने पदार्थों, मिठाइयों, मसालों, घी तेल एवं अन्य खाद्य पदार्थों में मिलावट करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई कर यह सुनिश्चित किया जाएगा कि कोई भी लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ नहीं कर सके। गहलोत ने एक उच्च-स्तरीय बैठक के दौरान अधिकारियों को निर्देश दिए कि मिलावटखोरी के खिलाफ 26 अक्तूबर से 'शुद्ध के लिये युद्ध' अभियान चलाया जाए, जो त्योहारी सीजन के दौरान नवंबर माह के अन्त तक चलेगा। यह अभियान राज्य-स्तर पर वरिष्ठ अधिकारियों का समूह बनाकर चलाया जाएगा। सभी जिलों में जिला कलेक्टर के निर्देशन में अभियान चलाया जाएगा।

इन चीजों पर केंद्रित रहेगा अभियान

मुख्यमंत्री ने कहा कि अभियान दूध, घी, तेल, मिठाइयों, मसालों, सूखे मेवों आदि खाद्य पदार्थों में मिलावट के साथ-साथ खाद्य पदार्थों की गुणवत्ता तथा पैकेजिंग में 'मिस-ब्रांडिंग' पर केंद्रित रहेगा। संदिग्ध पदार्थों के सैंपल की गुणवत्ता की प्रयोगशाला में तुरन्त जांच करवाकर मिलावटी सामान तैयार करने वाले तथा ऐसे पदार्थ बेचने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। आवश्यकता होने पर संबंधित के खिलाफ पुलिस एफआईआर दर्ज कर आपराधिक दण्डात्मक कार्रवाई भी अमल में लाई जाएगी।

Next Story