Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राजस्थान गहलोत कैबिनेट की बैठक : मंत्री बोले- राज्यपाल से नहीं चाहते कोई टकराव, 31 जुलाई से सत्र बुलाने के इच्छुक

राजस्थान में राजनीतिक हलचल तेज होती जा रही है। राज्य में जारी सियासी उथल पुथल के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में मुख्यमंत्री निवास पर कैबिनेट की बैठक हुई। यह बैठक लगभग दो घंटे तक चली। कैबिनेट की बैठक में विधानसभा सत्र बुलाने के संशोधित प्रस्ताव पर राज्यपाल कलराज मिश्र द्वारा उठाए गए बिंदुओं पर गहन चर्चा की गई।

राजस्थान गहलोत कैबिनेट की बैठक : मंत्री बोले- राज्यपाल से नहीं चाहते कोई टकराव, 31 जुलाई से सत्र बुलाने के इच्छुक
X
राजस्थान कैबिनेट बैठक

जयपुर। राजस्थान में राजनीतिक हलचल तेज होती जा रही है। राज्य में जारी सियासी उथल पुथल के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में मुख्यमंत्री निवास पर कैबिनेट की बैठक हुई। यह बैठक लगभग दो घंटे तक चली। कैबिनेट की बैठक में विधानसभा सत्र बुलाने के संशोधित प्रस्ताव पर राज्यपाल कलराज मिश्र द्वारा उठाए गए बिंदुओं पर गहन चर्चा की गई। यह बैठक ऐसे में समय में हो रही है जब राज्य में मुख्यमंत्री गहलोत और राज्यपाल कलराज मिश्र के बीच विवाद चल रहा है। दरअसल, गहलोत राज्य की स्थिति को लेकर विधानसभा सत्र बुलाने की मांग कर रहे हैं।

दो घंटे तक चली बैठक

बैठक में शामिल एक मंत्री ने कहा है कि सरकार 31 जुलाई से ही सत्र बुलाना चाहती है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में मुख्यमंत्री निवास में हुई कैबिनेट बैठक लगभग दो घंटे चली। बैठक के बाद एक मंत्री ने कहा कि विधानसभा सत्र बुलाने के संशोधित प्रस्ताव पर राज्यपाल द्वारा उठाए गए बिंदुओं पर चर्चा हुई है। बैठक के बाद परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि हम राज्यपाल से कोई टकराव नहीं चाहते हैं वे हमारे परिवार के मुखिया हैं। उन्होंने संकेत दिया कि राज्य सरकार की ओर से विधानसभा सत्र बुलाने के लिए संशोधित प्रस्ताव एक बार फिर राजभवन को भेजा जाएगा। उन्होंने कहा कि अब राज्यपाल को तय करना है कि वे हर राजस्थान की भावना को समझें। क्या सरकार 31 जुलाई से ही सदन बुलाना चाहती है यह पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि हम 31 जुलाई से सत्र चाहते हैं। जो पहले प्रस्ताव था वह हमारा अधिकार है, संवैधानिक अधिकार है। उसी को हम वापस भेज रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि राज्य में जारी राजनीतिक रस्साकशी के बीच राज्यपाल कलराज मिश्र ने विधानसभा सत्र बुलाने का कैबिनेट का प्रस्ताव दुबारा वापस सरकार को भेजा है। राज्य सरकार ने शनिवार रात को जो संशोधित कैबिनेट प्रस्ताव राज्यपाल को भेजा गया था उसमें विधानसभा सत्र 31 जुलाई से बुलाने की बात थी। लेकिन राज्यपाल ने इस प्रस्ताव को तीन बिंदुओं के साथ सरकार को लौटा दिया।

Next Story