Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Rajasthan Corona Update : कोरोना का लगातार गिर रहा ग्राफ, 529 नए मामले मिले, 32 और लोगों की मौत

चिकित्सा विभाग की ओर से मंगलवार को जारी आंकडों के अनुसार बीते चौबीस घंटे में राज्य में कोरोना वायरस संक्रमण के 529 नये मामले सामने आये हैं।

Rajasthan Corona Update : कोरोना के 55 नए मामले, इस शहर में डेढ़ साल बाद एक्टिव केस 100 के नीचे
X

राजस्थान कोरोना वायरस

जयपुर। राजस्थान में कोरोना वायरस का ग्राफ निरंतर गिरता जा रहा है। इस घातक बीमारी के प्रकोप में कमी के चलते प्रदेश सरकार और आम आदमी ने कुछ राहत की सांस जरूर ली है। पिछले 24 घंटों में यहां कोरोना वायरस संक्रमण के मंगलवार को 529 नए मामले सामने आए वहीं इस घातक संक्रमण से 32 और लोगों की मौत हो गई। चिकित्सा विभाग की ओर से मंगलवार को जारी आंकडों के अनुसार बीते चौबीस घंटे में राज्य में कोरोना वायरस संक्रमण के 529 नये मामले सामने आये हैं।

नए मामलों में राजधानी जयपुर में सबसे अधिक 141, अलवर में 61, उदयपुर में 42, हनुमानगढ में 38 और बीकानेर में 35 नये मामले शामिल हैं। विभाग के एक अधिकारी के अनुसार इस दौरान इस घातक संक्रमण से 32 और लोगों की मौत हो गई। राज्य में अब तक इस संक्रमण से 8,719 लोगो की मौत हो चुकी है। आंकड़ों के अनुसार इस दौरान राज्य में 2,617 लोग संक्रमण से ठीक हुए। अब तक राज्य में 13,624 संक्रमित उपचाराधीन हैं।

टीकों की लगभग 12 लाख 70 हजार खुराक 9 जून से मिलेंगी : रघु शर्मा

राजस्थान के चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा ने कहा कि राज्य के 18 से 44 साल आयु वर्ग के लिए टीका निर्माता कंपनियों से नौ जून से अलग-अलग खेपों में लगभग 12 लाख 70 हजार खुराक राज्य को मिलना प्रारंभ हो जाएंगी। शर्मा ने कहा कि प्रदेश में 18 से 44 साल आयुवर्ग के लोगों के लिहाज से कुल 30 लाख 57 हजार 720 खुराकों के लिए कोविशील्ड और कोवैक्सीन कंपनियों को राज्य सरकार के खर्चे पर 100 करोड़ रुपए से ज्यादा की अग्रिम राशि दी गई थी। उन्होंने बताया कि इनमें से 24 लाख 49 हजार 380 खुराक कोविशील्ड तथा 6 लाख 4 हजार 340 खुराक कोवैक्सीन की आनी थीं। अब तक अलग-अलग खेपों में लगभग 17 लाख 87 हजार 720 खुराक राज्य सरकार को प्राप्त हो चुकी हैं और लगभग 12 लाख 70 हजार खुराक 9 जून से मिलने लगेंगी। शर्मा ने कहा कि केंद्र ने अब तक कोविशील्ड और कोवैक्सीन की 1 करोड़ 83 लाख 67 हजार 940 खुराक राज्य सरकार को दी हैं।

Next Story