Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राजस्थान: कांग्रेस विधायक दल की बैठक, कई विधायक पायलट की वापसी से खुश नहीं

प्रदेश में कांग्रेस विधायक दल की बैठक मंगलवार देर रात हुई। बैठक में कई विधायकों ने सचिन पायलट व अन्य बागी विधायकों की वापसी को लेकर नाराजगी भी व्यक्त की। इस बैठक में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बदले राजनीतिक समीकरणों से विधायकों को अवगत कराया और इस दौरान कई विधायकों ने सचिन पायलट व अन्य बागी विधायकों की वापसी को लेकर नाराजगी भी व्यक्त की।

राजस्थान: कांग्रेस विधायक दल की बैठक, कई विधायक पायलट की वापसी से खुश नहीं
X
कांग्रेस विधायक दल की बैठक

जैसलमेर। राजस्थान में राजनीतिक संकट का समाधान हो गया है। पिछले कई दिनों से यहां सियासी घमासान चल रहा था। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट के बीच विवाद खत्म हो गया है। वहीं प्रदेश में कांग्रेस विधायक दल की बैठक मंगलवार देर रात हुई। बैठक में कई विधायकों ने सचिन पायलट व अन्य बागी विधायकों की वापसी को लेकर नाराजगी भी व्यक्त की। इस बैठक में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बदले राजनीतिक समीकरणों से विधायकों को अवगत कराया और इस दौरान कई विधायकों ने सचिन पायलट व अन्य बागी विधायकों की वापसी को लेकर नाराजगी भी व्यक्त की। पार्टी सूत्रों के अनुसार मुख्यमंत्री गहलोत ने अपने संबोधन में सभी विधायकों को मौजूदा राजनीतिक संकट में इतने दिन तक निस्वार्थ भाव से एकजुट रहने के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि यहां मौजूद विधायक लोकतंत्र के लिए, पार्टी के लिए, प्रदेश व देश के लिए इतने दिन बिना किसी लोभ प्रलोभन में आए एकजुट रहे जो अपने आप में एक इतिहास है। बैठक के दौरान बड़ी संख्या में विधायकों ने सचिन पायलट व उनके खेमे के 18 अन्य विधायकों की वापसी को लेकर नाराजगी जताई।

गहलोत बोले- हमें आलाकमान पर पूरा भरोसा

पायलट खेमे द्वारा दिए जा रहे कथित बयानों को लेकर भी बात हुई। इस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि इस तरह के बयानों की परवाह नहीं करनी चाहिए हमें आलाकमान पर पूरा विश्वास है। आलाकमान ने जो भी फैसला किया होगा उचित किया होगा। पायलट की वापसी पर विधायकों की नाराजगी पर मुख्यमंत्री गहलोत ने सबसे कहा कि आलाकमान का आदेश सर माथे पर होता है। इसके साथ ही उन्होंने आश्वस्त किया कि जिस भी विधायक ने इस संकट में पार्टी के प्रति निष्ठा रखी है उस विधायक के किसी भी हित के साथ समझौता नहीं होगा। वे इस बात का ध्यान रखेंगे कि उनके हक प्रभावित नहीं हो। उल्लेखनीय है कि कांग्रेस व उसके समर्थक विधायक लगभग 11 दिन से यहां के एक निजी होटल में ठहरे हुए हैं। ये विधायक बुधवार को राजधानी जयपुर लौटेंगे जहां 14 अगस्त से विधानसभा का सत्र होना है।

Next Story