Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

डूंगरपुर प्रदर्शन : जिले में निषेधाज्ञा लागू, इंटरनेट सेवाएं बंद, राष्ट्रीय राजमार्ग अभी भी नहीं खुले

राजस्थान के डूंगरपुर जिले के बिछीवाड़ा थाना क्षेत्र में राष्ट्रीय राजमार्ग आठ पर उग्र प्रदर्शनकारियों ने शुक्रवार को पुलिस दल पर पथराव किया और कुछ बसों को आग के हवाले कर सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाया। प्रशासन ने एहतियातन जिले में निषेधाज्ञा लगाते हुए इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी हैं।

डूंगरपुर प्रदर्शन : जिले में निषेधाज्ञा लागू, इंटरनेट सेवाएं बंद, राष्ट्रीय राजमार्ग अभी भी नहीं खुले
X
डूंगरपुर हिंंसा

जयपुर। राजस्थान के डूंगरपुर जिले के बिछीवाड़ा थाना क्षेत्र में राष्ट्रीय राजमार्ग आठ पर उग्र प्रदर्शनकारियों ने शुक्रवार को पुलिस दल पर पथराव किया और कुछ बसों को आग के हवाले कर सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाया। प्रशासन ने एहतियातन जिले में निषेधाज्ञा लगाते हुए इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी हैं। इस प्रदर्शन को लेकर शुक्रवार रात यहां मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बैठक ली। वहीं आज उदयपुर में प्रदर्शनकारी युवाओं के प्रतिनिधियों से चर्चा होनी है। जिला कलेक्टर कानाराम ने बताया कि अभी स्थिति नियंत्रण में है लेकिन राष्ट्रीय राजमार्ग अभी भी बंद है। प्रदर्शनकारियों ने कुछ बसों को आग लगा दी। उदयपुर रेंज की पुलिस महानिरीक्षक विनिता ठाकुर ने बताया कि जिले में निषेधाज्ञा लागू की गई है और इंटरनेट सेवाओं को बंद कर दिया गया है।

वहीं इस आंदोलन को लेकर शुक्रवार शाम जनप्रतिनिधियों की यहां मुख्यमंत्री निवास में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से चर्चा हुई थी। बैठक में कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा के साथ साथ सम्बद्ध इलाके के कांग्रेस के व भारतीय ट्राइबल पार्टी (बीटीपी) के विधायकों ने भाग लिया। अब शनिवार को उदयपुर में प्रदर्शनकारियों के प्रतिनिधि मंडल से वार्ता होगी। बैठक के बाद मंत्री अर्जुन बामणिया ने आंदोलनकारियों से शांति बनाए रखने की अपील की। वहीं यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष गणेश घोघरा ने कहा कि जो माहौल बिगड़ रहा है वह सरकार को बदनाम करने की साजिश है। उन्होंने कहा कि हम अंहिसा में विश्वास रखते है। हम कांग्रेस पार्टी की विचारधारा के है और 36 कौमों को साथ लेकर चलते हैं।

क्या है पूरा मामला?

उल्लेखनीय है कि बृहस्पतिवार शाम को राष्ट्रीय राजमार्ग 8 पर अध्यापक पात्रता परीक्षा (रीट) से जुडी अपनी मांगों को लेकर उग्र भीड़ ने पुलिस दल पर पथराव किया और पुलिस वाहनों को आग के हवाले कर दिया था। इससे पहले मुख्यमंत्री गहलोत ने सुबह ट्वीट कर कहा कि डूंगरपुर में उपद्रव एवं हिंसक प्रदर्शन बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है। विरोध करने के संवैधानिक अधिकार का इस्तेमाल हो, शांतिपूर्ण प्रदर्शन हों लेकिन कानून को अपने हाथ में लेने का किसी को अधिकार नहीं है। प्रदर्शनकारियों से मेरी अपील है कि कृपया शांति एवं कानून-व्यवस्था बनाए रखने में सहयोग करें।'' अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला व प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने भी डूंगरपुर जिले में प्रदर्शनकारियों से शांति बनाए रखने व कानून अपने हाथ में नहीं लेने की अपील की है।

Next Story