Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बड़ा खुलासा : जोधपुर में अफीम तस्करी का ऐसा तरीका देख पुलिस भी रह गई हैरान

राजस्थान के जोधपुर में पुलिस ने अफीम तस्करी के एक बड़े गिरोह का पर्दाफाश किया है। तीन हजार किलोमीटर दूर म्यांमार देश से यहां अफीम चायपत्ती के साथ छुपाकर लाई जा रही थी। हत्या के आरोप में पकड़े गए तस्करों ने जब ये राज खोला, तो पुलिस अधिकारी भी हैरान रह गए।

बड़ा खुलासा : जोधपुर में अफीम तस्करी का ऐसा तरीका देख पुलिस भी रह गई हैरान
X

अफीम तस्करी का खुलासा

जोधपुर। वैसे तो देश में नशा तस्करी के नए से नए तरीकों को आप ने सुना होगा। मगर जो तरीका आज हम आपको बताने जा रहे हैं उसे सुनकर शायद आप भी हैरत में पड़ जाएं। राजस्थान के जोधपुर में पुलिस ने अफीम तस्करी के एक बड़े गिरोह का पर्दाफाश किया है। तीन हजार किलोमीटर दूर म्यांमार देश से यहां अफीम चायपत्ती के साथ छुपाकर लाई जा रही थी। हत्या के आरोप में पकड़े गए तस्करों ने जब ये राज खोला, तो पुलिस अधिकारी भी हैरान रह गए। इतना ही नहीं आरोपियों ने अफीम की तस्करी का पूरा रूट भी पुलिस को बताया है।

कहां से आती थी अफीम की खैप

जोधपुर पुलिस उपायुक्त आलोक श्रीवास्तव ने बताया कि म्यांमार से मणिपुर और मणिपुर से गुवाहाटी अफीम की खेप लाई जाती है. उसके बाद इसे चाय की पत्तियों के ट्रक में डालकर आगे लाया जाता है, जिससे कि अफीम की गंध नहीं आए। उन्होंने बताया कि म्यांमार से लाई गई अफीम की एक खेप को लेकर उठे विवाद के चलते कुछ दिनों पहले दो युवकों की हत्या हो गई थी। इस हत्या के मामले ने तूल पकड़ा, तो पुलिस ने अपनी जांच में और तेजी दिखाई। पुलिस ने तीन आरोपियों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया, इनकी निशानदेही पर दो आरोपियों को दिल्ली से गिरफ्तार किया गया।

पहली बार म्यांमार से अफीम तस्करी का मामला आया सामने

आरोपियों से की गई पूछताछ में अफीम तस्करी के अंतराष्ट्रीय खेल का खुलासा हुआ है। पुलिस ने बताया कि राजस्थान में झारखंड और मध्य प्रदेश से ही अफीम आने के खुलासे हुए थे, लेकिन पहली बार म्यांमार से भी अफीम आने की बात का पता चला है। जोधपुर पुलिस ने इसकी जानकारी नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो को भी दे दी है।

Next Story