Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राजस्थान में महामारी रेड अलर्ट कर्फ्यू आज से लागू, सीएम ने दिए निर्देश- नई गाइडलाइन्स का पूरी कड़ाई से पालन करवाएं

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से राज्य में कोरोना संक्रमितों की बढती संख्या को देखते हुए मेडिकल ऑक्सीजन का आवंटन बढ़ाए जाने के लिए केंद्र सरकार से लगातार समन्वय बनाए रखने के निर्देश दिए हैं।

राजस्थान में महामारी रेड अलर्ट कर्फ्यू आज से लागू, सीएम बोले- नई गाइडलाइन की पूरी कड़ाई से पालन करवाएं
X

महामारी रेड अलर्ट कर्फ्यू 

जयपुर। राजस्थान में कोरोना संक्रमितों (Rajasthan Corona Patients) की संख्या में कोई कमी नहीं आ रही है बल्कि यहां कोरोना के नए मामले रोजाना रिकॉर्ड तोड़ सामने आ रहे हैं जिसकी वजह से सरकार के सामने कई तरह की चुनौतियां खड़ी हो गई हैं। इसी को देखते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने कहा कि जीवन रक्षा के लिए कोरोना प्रोटोकॉल (Corona Protocol) की सख्ती से पालन कराना बहुत जरूरी है। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि आज यानी सोमवार से शुरू हुए 'महामारी रेड अलर्ट जन अनुशासन पखवाड़े' की गाइडलाइन की पूरी कड़ाई से पालन करवाएं और इसमें किसी तरह की ढिलाई नहीं हो। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से राज्य में कोरोना संक्रमितों की बढती संख्या को देखते हुए मेडिकल ऑक्सीजन (Medical Oxygen) का आवंटन बढ़ाए जाने के लिए केंद्र सरकार से लगातार समन्वय बनाए रखने के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही उन्होंने केंद्र सरकार (Central Government) के माध्यम से आयात किए जा रहे ऑक्सीजन परिवहन के टैंकरों में से राजस्थान को जरूरत के मुताबिक टैंकर उपलब्ध कराने के लिए भी पुरजोर पैरवी करने के निर्देश दिए है।

तेजी से बढ़ रही ऑक्सीजन की खपत

गहलोत ने वीडियो कांफ्रेंस (Video Conference) के माध्यम से ऑक्सीजन आपूर्ति, दवाओं की उपलब्धता, कोरोना संक्रमण और सोमवार से शुरू हो रहे 'महामारी रेड अलर्ट-जन अनुशासन पखवाड़े' को लेकर समीक्षा बैठक कर रहे थे। उन्होंने कहा कि बढ़ते संक्रमण के कारण राज्य में ऑक्सीजन की खपत तेजी से बढ़ रही है। चूंकि केंद्र सरकार राष्ट्रीय योजना के तहत ऑक्सीजन का आवंटन कर रही है, ऐसे में राजस्थान की आवश्यकता को देखते हुए आवंटन की मात्रा बढ़ाया जाना बेहद जरूरी है। ऑक्सीजन सांद्रक की जल्द से जल्द खरीद करने के निर्देश दिए।

नई गाइडलाइन्स में ये समय होगा निर्धारित

सरकार की ओर से जारी नई गाइडलाइन में खाद्य पदार्थ, किराने का सामान, आटा चक्की, पशुचारे संबंधित थोक एवं खुदरा दुकानें, प्रतिदिन सोमवार से शुक्रवार 6 से 11 बजे खुलेंगे। कृषि आदान विक्रेताओं की दुकानें भी सुबह 6 से 11 तक खुलेंगे। मंडी, फल सब्जियां, फूल मालाएं दुकान में प्रतिदिन सुबह 11 बजे तक खुलेंगे।

ठेले-साइकिल, रिक्शा-ऑटो रिक्शा मोबाइल वैन के माध्यम से सब्जियों और फलों का विक्रय पूर्व की भांति प्रतिदिन सुबह6 बजे से शाम पांच तक हो सकेगा। डेयरी प्रतिदिन सुबह 6 से 11 और शाम 5 से 7 पूर्व की भांति जारी रहेंगी। राशन की दुकानें बिना किसी अवकाश खुलीं रहेंगी। इसके अलावा निर्माण सामग्री के संबंधित दुकानों को खोलने की अनुमति नहीं होगी, दूरभाष अथवा इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से आर्डर मिलने पर सामग्री की सप्लाई की जा सकेगी।

Next Story