Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मॉनसून मेहरबान : जयपुर के कई इलाकों में जमकर बरसे मेघा, सड़कें बनी दरिया

देश के ज्यादातर राज्यों में मॉनसून ने दस्तक दे दी है। मंगलवार को जयपुर के कई इलाकों में भी मेघा जमकर बरसे। मंजर यह रहा कि महज दो घंटे में ही 68 मिमी बारिश दर्ज की गई। पानी भरने से सड़कों पर लंबा जाम लग गया।

मॉनसून मेहरबान : जयपुर के कई इलाकों में जमकर बरसे मेघा, सड़कें बनी दरिया
X
जयपुर मॉनसून

जयपुर। देश के ज्यादातर राज्यों में मॉनसून ने दस्तक दे दी है। मंगलवार को जयपुर के कई इलाकों में भी मेघा जमकर बरसे। मंजर यह रहा कि महज दो घंटे में ही 68 मिमी बारिश दर्ज की गई। पानी भरने से सड़कों पर लंबा जाम लग गया।
सड़कों पर वाहनों की लंबी कतारें लगी रहीं। मानसरोवर न्यू सांगानेर रोड पर मेन सड़क धंस गई। कलेक्ट्रेट पर 68 मिमी, आमेर में 16, सांगानेर में 3 मिमी और एयरपोर्ट पर 0.6 मिमी पानी गिरा। बीते चौबीस घंटे के दौरान मानसून भरतपुर, राजसमंद, जालौर, चित्तौड़गढ़ जिलों में भी मेहरबान रहा।भरतपुर के बयाना में 103 मिमी यानी करीब 4 इंच बारिश दर्ज हुई। जयपुर जिले के फुलेरा, सांभर, दूदू में अच्छी बारिश हुई। चित्तौड़गढ़ व वागन बांध पर 20-20 मिमी बारिश दर्ज हुई, जबकि डूंगला में 24 मिमी पानी गिरा।मौसम विभाग के अनुसार आगामी दो दिन तक राजस्थान के पूर्वी इलाकों भरतपुर और जयपुर संभाग में एक-दो स्थानों पर भारी बारिश होगी, जबकि पश्चिमी जिलों में कहीं-कहीं हल्की से मध्यम की संभावना है। इसके बाद 9 जून से ट्रफ लाइन उत्तर की ओर यानि हिमालय की तरफ खिसकने से राज्य में मानसून कमजोर पड़ेगा। 13 जुलाई तक हल्की बारिश ही होगी।

सड़कें बन गई दरिया

शहर में आई बारिश ने नाला सफाई और ड्रेनेज सिस्टम की पोल खोल दी है। बारिश का पानी सड़कों पर बह निकला, देखते ही देखत सड़कें दरिया बन गई। शहर में कई जगहों पर पानी भर गया। कॉलोनियां दरिया बन गई। बारिश थमने के साथ ही कंट्रोल रूम में लगातार जलभराव की शिकायतें आने लग गई। खजाने वालों का रास्ता, खानियां सहित कई जगहों पर दुकानों के अंदर पानी भर गया। रामगढ़ मोड़ पर सड़क धंस गई।

Next Story