Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मुख्यमंत्री गहलोत बोले- राजस्थान में कल से शुरू होने वाले 'कोरोना के विरूद्ध जन आंदोलन' को सफल बनाएं

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि कोरोना वायरस संक्रमण से लोगों का जीवन बचाने के लिए सभी को अपना फर्ज निभाते हुए कल यानी दो अक्टूबर से शुरू होने वाले ‘कोरोना के विरूद्ध जन आंदोलन' को सफल बनाना होगा।

मुख्यमंत्री गहलोत बोले- राजस्थान में कल से शुरू होने वाले ‘कोरोना के विरूद्ध जन आंदोलन
X
अशोक गहलोत

जयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि कोरोना वायरस संक्रमण से लोगों का जीवन बचाने के लिए सभी को अपना फर्ज निभाते हुए कल यानी दो अक्टूबर से शुरू होने वाले 'कोरोना के विरूद्ध जन आंदोलन' को सफल बनाना होगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में संक्रमण को नियंत्रण में रखने में अभी तक जो कामयाबी मिली है उसे बरकरार रखने के लिए राजनीतिक विचारधारा से ऊपर उठकर सभी दलों के नेता, जनप्रतिनिधि, सांसद, विधायक इस जन आंदोलन में पूरी भागीदारी निभाएं। गहलोत बुधवार को विभिन्न राजनीतिक दलों के जनप्रतिनिधियों से जन आंदोलन को लेकर चर्चा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि यदि कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ी तो यह हमारे लिए बहुत बड़ी चुनौती होगी।

कहा- जीवन बचाना हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता

गहलोत ने कहा कि जीवन बचाना हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है। कोरोना संक्रमण रोकने के लिए धन की कोई कमी आड़े नहीं आने दी जाएगी। उन्होंने कहा कि इस अभियान के दौरान लोगों को मास्क बांटे जाएंगे। सभी मंत्री अपने प्रभार वाले जिलों में जाकर अभियान की निगरानी करेंगे। विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी ने कहा कि संसदीय लोकतंत्र को मजबूत बनाते हुए राजस्थान में सभी दलों के नेता एवं जनप्रतिनिधि इस जन आंदोलन में भागीदारी निभा रहे हैं इसके लिए वे साधुवाद के पात्र हैं।

उन्होंने कहा कि कोरोना के विरूद्ध इस जन आंदोलन की सफलता पूरे देश के समक्ष एक उदाहरण पेश करेगी। उन्होंने युवाओं का आह्वान किया कि वे सूचना प्रौद्योगिकी का उपयोग करते हुए आमजन को कोरोना से बचाव के प्रति जागरूक करें। पूर्व मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने सभी दलों के जनप्रतिनिधियों के साथ लगातार संवाद कायम रखने के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण अभी सबसे खतरनाक दौर में है।

ऐसे में राजनीति एवं पार्टी हितों से ऊपर उठकर सभी को मिलकर काम करना होगा। उन्होंने सुझाव दिया कि ऐसे कोई भी कार्यक्रम आयोजित नहीं हों जिनमें ज्यादा लोगों के आने से संक्रमण बढ़ने की आशंका हो। उन्होंने कहा कि समाज में प्रभाव रखने वाले लोगों को कोरोना वायरस से बचाव का संदेश देने वाले वीडियो सोशल मीडिया पर प्रसारित करने चाहिए जिससे जागरूकता बढ़ेगी। जन आंदोलन के नोडल विभाग नगरीय विकास एवं स्वायत्त शासन विभाग के मंत्री शांति धारीवाल ने कहा कि दो अक्टूबर से शुरू हो रहे जन आंदोलन में शुरूआती दौर में 11 जिला मुख्यालयों पर जागरूकता अभियान शुरू किया जाएगा जिसे बाद में अन्य जिलों में भी चलाया जाएगा। इसके तहत एक करोड़ मास्क आमजन को बांटे जाएंगे।

Next Story