Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दर्दनाक हादसा : घर में रखी रद्दी और कबाड़ में लगी आग, दंपति जिंदा जले, पॉलिथिन की थैलियों में भरकर बाहर निकाले शव

श्रीगंगानगर के एफ ब्लॉक में मंगलवार सुबह एक दर्दनाक हादसा सामने आया। यहां एक घर में गत्तों, अखबार व पॉलीथिन से भरा मकान आग लगने से खाक बन गया, जिसमें वहां रह रहे दंपति जिंदा जल गए।

दर्दनाक हादसा : घर में रखी रद्दी और कबाड़ में लगी आग, दंपति जिंदा जले, पॉलिथिन की थैलियों में भरकर बाहर निकाले शव
X

 घर में रखी रद्दी और कबाड़ में लगी आग

श्रीगंगानगर। श्रीगंगानगर के एफ ब्लॉक में मंगलवार सुबह एक दर्दनाक हादसा सामने आया। यहां एक घर में गत्तों, अखबार व पॉलीथिन से भरा मकान आग लगने से खाक बन गया, जिसमें वहां रह रहे दंपति जिंदा जल गए। मौके पर पहुंचे दमकलकर्मियों ने आग पर काबू पाकर दोनों के अवशेष पॉलीथिन की थैलियों में बाहर निकाले। आग की इस घटना से पड़ोसियों में दहशत फैल गई और इलाके में हड़कंप मच गया। एफ ब्लॉक 19 के दो मंजिला एक छोटे मकान में अनिल कुमार व उसकी पत्नी गीतादेवी रह रहे थे। अनिल कुमार ने अपने मकान में कबाड़ का सामान गत्ते, अखबार व पॉलीथिन आदि भरे हुए थे। उसका कई बार पड़ोसियों ने कबाड़ को निकालने की बात भी कही थी लेकिन वह नहीं माना।

पड़ोसियों का कहना है कि दोनों दंपति मानसिक रूप से परेशान थे। घर में कबाड़ इकट्ठा करने की आदत होने की वजह से और संभवतया अंगीठी जलाने के दौरान आग सुलगने से यह हादसा हुआ है। पड़ोसियों का यह कहना है कि पुलिस को बार-बार सूचना दिए जाने के बावजूद पुलिस ने समय रहते शिकायत पर गौर नहीं किया और आखिरकार यह हादसा हो गया।

दमकलकर्मियों ने शवों को पॉलीथिन की थैलियों में डालकर नीचे उतरा और एम्बुलेंस से राजकीय चिकित्सालय पहुंचाया। यहां तीन गाड़ियों ने पानी डालकर आग पर काबू पाया। इस दौरान यहां लोगों की भीड़ जमा हो गई। पुलिस भी मौके पर पहुंची थी। पुलिस ने लोगों को यहां से दूर हटाया।

Next Story