Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राजथान में आयकर विभाग की बड़ी कार्रवाई, सीएम गहलोत के करीबियों पर की छापेमारी

राजस्थान में जारी राजनीतिक संकट थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। यहां गरमाए राजनीतिक विवाद ने सभी का ध्यान अपनी तरफ खींच रखा है। एक तरफ जहां सीएम गहलोत और सचिन पायलट के बीच विवाद बढ़ता ही जा रहा है, वहीं आयकर विभाग ने भी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के करीबियों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक आयकर विभाग ने अशोक गहलोत के करीबियों पर छापेमारी की है।

राजथान में आयकर विभाग की बड़ी कार्रवाई, सीएम गहलोत के करीबियों पर की छापेमारी
X
आयकर विभाग की कार्रवाई

जयपुर। राजस्थान में जारी राजनीतिक संकट थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। यहां गरमाए राजनीतिक विवाद ने सभी का ध्यान अपनी तरफ खींच रखा है। एक तरफ जहां सीएम गहलोत और सचिन पायलट के बीच विवाद बढ़ता ही जा रहा है, वहीं आयकर विभाग ने भी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के करीबियों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक आयकर विभाग ने अशोक गहलोत के करीबियों पर छापेमारी की है। जिसमें इनके के घरों से भारी मात्रा में अघोषित रकम बरामद की गई है। सूत्रों के मुताबिक आयकर विभाग ने इनके घर से भारी मात्रा में ज्वैलरी भी बरामद की है। इसके अलावा इनके कई लॉकर भी आयकर विभाग के संज्ञान में आए हैं। आयकर विभाग जब्त रकम, ज्वैलरी और लॉकर में बरामद धन की गणना कर रहा है।

इस बीच आयकर विभाग ने रतनकांत शर्मा, सुनील कोठारी, राजीव अरोड़ा और धर्मेंद्र राठौर को समन भेजकर पूछताछ के लिए बुलाया है। बताया जाता है कि ये सभी कथित रूप से राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत के करीबी हैं।

14 जुलाई को भी की गई थी छापेमारी

बता दें कि आयकर विभाग ने इनके ठिकाने पर बीते दिनों राजस्थान, दिल्ली और मुंबई में शिकंजा कसते हुए छापेमारी की थी। आयकर विभाग ने यह कार्रवाई ऐसे समय में की है जब राजस्थान में राजनीतिक हलचल उफान पर चल रही है। आयकर विभाग ने 14 जुलाई को दिल्ली-मुंबई और राजस्थान के अलग अलग जगहों पर इन लोगों के 43 ठिकानों पर छापा मारा था।

गहलोत के चार कथित करीबियों को भेजा समन

आयकर विभाग ने सीएम अशोक गहलोत के चार कथित करीबी लोगों को पूछताछ के लिए समन भेजा है। इन सभी को आयकर की धारा 131 के तहत नोटिस भेजा गया गया है। आयकर की धारा 131 के तहत प्रावधान है कि आयकर अधिकारी पूछताछ कर सकें। इस धारा के तहत अधिकारियों को व्यक्तियों को पूछताछ के लिए बुलाने का अधिकार मिलता है। आयकर अधिकारी करदाता को अपने खाते-बही और दस्तावेजों को भी पेश करने को कह सकते हैं।

Next Story