Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राजस्थान : नाबालिग के यौन शोषण मामले में पांच गिरफ्तार

राजस्थान पुलिस ने सवाई माधोपुर शहर में एक नाबालिग के कथित यौन शोषण के मामले अब तक पांच लोगों को गिरफ्तार किया है जिनमें से दो पुलिस अभिरक्षा में है तथा तीन और आरोपियों की तलाश की जा रही है। इस प्रकरण में दो महिला आरोपी कांग्रेस एव भाजपा में पदाधिकारी रह चुकी हैं।

चोरी की गई कार में ही बैठकर चोर कर रहे थे नशा, चोरों को दबोचा
X
आरोपी गिरफ्तार (प्रतीकात्मक फोटो)

जयपुर। राजस्थान पुलिस ने सवाई माधोपुर शहर में एक नाबालिग के कथित यौन शोषण के मामले अब तक पांच लोगों को गिरफ्तार किया है जिनमें से दो पुलिस अभिरक्षा में है तथा तीन और आरोपियों की तलाश की जा रही है।

इस प्रकरण में दो महिला आरोपी कांग्रेस एव भाजपा में पदाधिकारी रह चुकी हैं। सवाई माधोपुर के पुलिस उपाधीक्षक ओमप्रकाश सोलंकी ने बताया कि 22 सितंबर को महिला थाने में दर्ज मामले के आधार पर इस मामले में संदीप शर्मा, राजूलाल रैगर, श्योराम मीना, सुनीता वर्मा उर्फ संपतबाई एवं हीरालाल मीना को गिरफ्तार किया जा चुका है। सोलंकी के अनुसार सुनीता वर्मा एवं हीरालाल को पुलिस ने पूछताछ के लिए छह अक्तूबर तक अभिरक्षा में लिया है जबकि पूजा उर्फ पूनम चौधरी एवं दो अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है।

यह मामला उस समय चर्चा में आया जब इन लोगों के चंगुल से एक नाबालिग भाग निकली और उसके परिजनों ने 22 सितंबर को महिला थाने में मामला दर्ज करवाया। मामले में गिरफ्तार सुनीता वर्मा भाजपा महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष थीं तो दूसरी आरोपी पूजा उर्फ पूनम चौधरी कांग्रेस सेवादल महिला प्रकोष्ठ की जिलाध्यक्ष थीं। आरोप है कि ये लोग एक सैक्स रैकेट चला रहे थे जिसमें इलाके की कई नाबालिग, युवतियां फंसी हुई थीं।

हालांकि अधिकारियों के अनुसार अभी एक ही नाबालिग सामने आई जिसकी शिकायत पर जांच की जा रही है। महिला थाने की थाना प्रभारी बृजबाला के अनुसार नाबालिग के परिजनों की ओर से सुनीता वर्मा, हीरालाल व पूर्जा उर्फ पूनम चौधरी के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म सहित भादंसं की विभिन्न धाराओं एवं पोक्सो के मामला दर्ज करवाया गया है। पुलिस के अनुसार अब तक गिरफ्तार लोगों में कम से कम तीन सरकारी कर्मचारी हैं। पुलिस के अनुसार मामले की जांच की जा रही है।

Next Story