Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

REET Exam Date: शिक्षा मंत्री डोटासरा ने दिए संकेत- फरवरी में आयोजित हो सकती है परीक्षा

राजस्थान प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं शिक्षा मंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा ने संकेत दिए कि राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा 2021 फरवरी में हो सकती है। बता दें कि ये परीक्षा युवाओं के लिए बहुत महत्वपूर्ण मानी जाती है। प्रदेश के करीब 10 लाख युवा रीट परीक्षा का इंतजार कर रहे हैं।

REET Exam Date: शिक्षा मंत्री डोटासरा ने दिए संकेत- फरवरी में आयोजित हो सकती है परीक्षा
X

रीट परीक्षा 2021

जयपुर। राजस्थान प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं शिक्षा मंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा ने संकेत दिए कि राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा 2021 फरवरी में हो सकती है। बता दें कि ये परीक्षा युवाओं के लिए बहुत महत्वपूर्ण मानी जाती है। प्रदेश के करीब 10 लाख युवा रीट परीक्षा का इंतजार कर रहे हैं। अब उनका ये इंतजार खत्म होने जा रहा है। बता दें कि रीट परीक्षा बेरोजगार युवाओं को रोजगार देने का अवसर देती है। इस परीक्षा के बाद लाखों बेरोजगारों को राहत मिलने की उम्मीद है। डोटासरा ने कहा है कि राज्य में राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा की परीक्षा अगले वर्ष फरवरी में कराए जाने की संभावना है। डोटासरा ने रविवार को यहां प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रामनारायण चौधरी की पुण्यतिथि पर आयोजित पुष्पांजलि कार्यक्रम के बाद मीडिया को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि नियमों में संशोधन की प्रक्रिया चल रही है और वह इस महीने पूरी जो जाएगी। उन्होंने कहा कि नवंबर तक तैयारी कर ली जाएगी। इसके बाद विज्ञापन निकाला जाएगा। पेपर बनाने और आवेदन लेने में तीन महीने का समय लगता है। उन्होंने कहा कि मेरा मानना है कि फरवरी में कभी भी रीट की परीक्षा हो सकती है।

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड करेगा रीट आयोजन

रीट का आयोजन राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड करेगा। रीट का सिलेबस बोर्ड की वेबसाइट पर उपलब्ध है। सिलेबस के एक बिन्दु को छोड़कर इसमें बदलाव की कोई संभावना नहीं है। रीट भर्ती में पहली बार वाणिज्य संकाय के विद्यार्थियों को भी शामिल किया जाएगा। रीट इस बार भी प्रथम व द्वितीय लेवल के आधार पर होगी। प्रथम लेवल में रीट के अंकों के आधार पर अभ्यर्थियों को तृतीय श्रेणी शिक्षक के पद पर नियुक्ति मिलेगी, जबकि द्वितीय लेवल में रीट व स्नातक के अंकों के आधार पर नौकरी मिलनी है। स्नातक के कितने फीसदी अंक शामिल होंगे इसकी घोषणा जल्द होगी। लेकिन स्नातक का वैटेज कम होना तय माना जा रहा है। हाल ही में शिक्षा विभाग की ओर से 31 हजार तृतीय श्रेणी शिक्षकों की भर्ती का प्रस्ताव वित्त विभाग को भेजा गया था जिस पर मुख्यमंत्री ने अपनी मुहर लगा दी। इन पदों पर भर्ती से राज्य सरकार पर 2 साल तक परीवीक्षा काल में 881.61 करोड़ और इसके बाद 1717.40 करोड़ रुपए प्रतिवर्ष का वित्तीय भार आएगा।

Next Story