Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राजस्थान में 14 नए मेडिकल कॉलेजों का निर्माण कार्य जल्द, जानें कब तक शुरू हो जाएगा यह काम

राज्य में 14 नए मेडिकल कॉलेजों का निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा। उन्होंने कहा कि कोविड महामारी के कारण उपजी कठिनाइयों के बावजूद राज्य सरकार का लक्ष्य सभी नए मेडिकल कॉलेजों का निर्माण जल्द से जल्द पूरा कराने का है ताकि वर्ष 2022-23 से इन्हें शुरू किया जा सके।

राजस्थान में 14 नए मेडिकल कॉलेजों का निर्माण कार्य जल्द, जानें कब तक शुरू हो जाएगा निर्माण कार्य
X

मेडिकल कॉलेजों का निर्माण 

जयपुर। राजस्थान में 14 नए मेडिकल कॉलेजों (Medical Colleges) का निर्माण कार्य जल्द ही शुरू हो जाएगा। चिकित्सा शिक्षा सचिव वैभव गालरिया ने यह जानकारी दी। गालरिया ने कहा कि राजस्थान देश के उन अग्रणी राज्यों में शामिल होने जा रहा है जहां लगभग प्रत्येक जिला मुख्यालय में मेडिकल कॉलेज होगा। शीघ्र ही राज्य में 14 नए मेडिकल कॉलेजों का निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा। उन्होंने कहा कि कोविड महामारी (Corona Pendamic) के कारण उपजी कठिनाइयों के बावजूद राज्य सरकार का लक्ष्य सभी नए मेडिकल कॉलेजों का निर्माण जल्द से जल्द पूरा कराने का है ताकि वर्ष 2022-23 से इन्हें शुरू किया जा सके।

उधर, उदयपुर के आयुर्वेद कॉलेज में प्रवेश सीटों की संख्या बढ़ी

राजस्थान सरकार ने उदयपुर स्थित राजकीय आयुर्वेद महाविद्यालय (Rajkiya Ayurved Mahavidyalaya) में स्नातक एवं स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों में आर्थिक रूप से कमजोर (EWS) वर्ग के विद्यार्थियों को आरक्षण देने के मद्देनजर प्रवेश देने के लिए सीटों की संख्या बढ़ा दी है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने इसके लिए महाविद्यालय के स्नातक पाठ्यक्रम में 15 तथा स्नातकोत्तर में 10 सीटें बढ़ाने के प्रस्ताव का अनुमोदन कर दिया है। उल्लेखनीय है कि वर्तमान में राजकीय आयुर्वेद महाविद्यालय, उदयपुर में स्नातक व स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों में नियमित प्रवेश क्षमता क्रमशः 60 और 40 है। अब इसे बढ़ाकर 75 और 50 किया गया है।

इस सीट वृद्धि के फलस्वरूप राज्य सरकार पर प्रति वर्ष 72.79 लाख रूपए का अतिरिक्त वित्तीय भार आएगा। सरकारी बयान के अनुसार गहलोत के इस निर्णय से बढ़ी हुई सीटों पर पूर्व में ही प्रवेश ले चुके छात्रों का एक वर्ष का समय खराब नहीं होगा। इस विषय में वित्त विभाग की अनुमति के बिना विद्यार्थियों को अतिरिक्त सीटों पर प्रवेश देने के लिए उत्तरदायी अधिकारियों अथवा कार्मिकों से स्पष्टीकरण प्राप्त कर नियमानुसार कार्रवाई भी की जाएगी।

Next Story