Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कांग्रेस ने गहलोत सरकार गिराने के आरोप में शेखावत से इस्तीफा की मांग की

राजस्थान में जारी सियासी संकट गरमाता जा रहा है। यहां मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच जो दीवार खिंच गई है उससे राजनीतिक पार्टियां अपनी अपनी रोटियां सेंकने में लग गए हैं। चारों तरफ से आरोप प्रत्यारोप का दौर जारी है। इसी कड़ी में कांग्रेस ने केन्द्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत पर राजस्थान में अशोक गहलोत सरकार को अस्थिर करने के षडयंत्र में शामिल होने का आरोप लगाते हुए रविवार को उनके इस्तीफे की मांग की।

कांग्रेस ने गहलोत सरकार गिराने के आरोप में शेखावत से इस्तीफा की मांग की
X
अजय माकन

जयपुर। राजस्थान में जारी सियासी संकट गरमाता जा रहा है। यहां मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच जो दीवार खिंच गई है उससे राजनीतिक पार्टियां अपनी अपनी रोटियां सेंकने में लग गई हैं। चारों तरफ से आरोप प्रत्यारोप का दौर जारी है। इसी कड़ी में कांग्रेस ने केन्द्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत पर राजस्थान में अशोक गहलोत सरकार को अस्थिर करने के षडयंत्र में शामिल होने का आरोप लगाते हुए रविवार को उनके इस्तीफे की मांग की।

कांग्रेस नेता एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री अजय माकन ने कहा कि राज्य पुलिस के भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने पार्टी विधायक भंवरलाल शर्मा, गजेंद्र सिंह और संजय जैन की बातचीत के ऑडियो टेप के संबंध में एक मामला दर्ज किया है। माकन ने कहा कि जब गजेंद्र सिंह का नाम एफआईआर में आ गया, जब उनकी आवाज जो कि सब लोग जानते-पहचानते हैं, उन लोगों ने भी पहचान कर ली तो क्या औचित्य है कि वह अभी भी केन्द्र सरकार में मंत्री पद पर बने हुए हैं? क्या उनको अधिकार है कि अभी भी वह केन्द्र सरकार के मंत्री पद पर बने रहे? उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी इसलिए यह मांग करती है कि गजेंद्र सिंह शेखावत को या तो इस्तीफा देना चाहिए या उनको तुरंत प्रभाव से हटा दिया जाना चाहिए ताकि वह जांच में हस्तक्षेप ना कर सकें।

माकन ने कहा कि दिल्ली की पुलिस और हरियाणा पुलिस भंवर लाल शर्मा और विश्वेन्द्र सिंह का आवाज का नमूना लेने से क्यों रोक रही है। उन्होंने कहा कि जितना आप रोक रहे हो यकीनन लोगों के दिमाग में यह तय होता जा रहा है कि इसके अंदर किसी ना किसी तरह की मिली भगत है और यह इन्हीं की आवाज है और यह धीरे धीरे साबित होता जा रहा है। उन्होंने कहा कि क्या केन्द्र सरकार सीबीआई की धमकी इसलिए दे रही है कि इसके अंदर और भी बड़े बड़े लोग शामिल है। इसके अंदर और नेता भी है और अगर धीरे धीरे यह जांच और ऊपर जायेगी तो पता नहीं कहां पर खत्म होगी तो क्या इसलिये सीबीआई की धमकी दी जा रही है। माकन ने कहा कि क्या भाजपा को यह नहीं बताना चाहिए कि इतना काला धन कहां से आ रहा है। इतना सारा पैसा 30 करोड़, 35 करोड़ प्रति विधायक की बात हो रही है, इतना सारा कालाधन कहां से आ रहा है और कौन मुहैया करा रहा है।

माकन ने कहा कि शेखावत को एक मिनट भी अपने पद पर बने रहने की नैतिक अधिकार नहीं है और इसी वक्त उन्हें इस्तीफा देना चाहिए नहीं तो केन्द्र सरकार को उनको हटाना चाहिए। उन्होंने कहा कि शेखावत को अपनी आवाज का नमूना देना चाहिए ताकि यह पता चल सके कि जो आवाज ऑडियो टेप में है ये वहीं गजेंद्र सिंह है या नहीं है।

Next Story