Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दिल्ली से वापस लौटे राजस्थान कांग्रेस के 3 विधायक, प्रेस वार्ता कर कही ये बड़ी बात

जल्द ही राजस्थान में कांग्रेस पार्टी ले सकती है बड़ा एक्शन। अभी भी उठा पटक जारी।

ज्योतिरादित्य सिंधिया पर सचिन पायलट ने तोड़ी चुप्पी, मामला न सुलझा पाने पर पार्टी नेतृत्व की बतायी हार
X
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट (फाइल)

राजस्थान में चल रहे राजनीतिक घमासान के बीच कांग्रेस के जिन विधायकों को (Deputy Chief Minister Sachin Pilot) सचिन पायलट के नजदीकी बताया जा रहा था। वह रविवार को दिल्ली से राजस्थान वापस लौट। उन्होंने जयपुर पहुंचकर एक प्रेस वार्ता कर दावा किया कि सरकार पूरी तरह से सुरक्षित है। हम गहलोत सरकार के साथ हैं। हम दिल्ली अपने काम से गये थे। विधायकों ने दावा किया कि वह अपने काम से दिल्ली गिये थे। अब वापस लौट आये हैं।

दरअसल, राजस्थान में कांग्रेस विधायक रोहित बोहरा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के में कहा कि हम हम कांग्रेस पार्टी के साथ हैं और रहेंगे। हमें कांग्रेस ने टिकट दिया था और हम पार्टी के सच्चे सिपाही हैं। हम किसी और के साथ नहीं हैं हम कांग्रेस के साथ हैं। इतना ही नहीं उन्होंने आगे कहा कि जो हमारा आलाकमान हमें कहेगा। हम वही काम करेंगे इसके अलावा कुछ भी नहीं करेंगे।

वहीं बता दें कि सचिन पायलट 2018 में राजस्थान में कांग्रेस की जीत के बाद मुख्यमंत्री पद के दावेदार माने जा रहे थे। लेकिन उन्हें मुख्यमंत्री की जगह उप मुख्यमंत्री का पद दिया गया। इसको लेकर काफी विरोध भी किया गया था। जिसके बाद पायलट को राजस्थान का राज्य प्रमुख के पद का पुरस्कार दिया था। वहीं राज्य में पार्टी के पुनर्निर्माण के लिए उनके काम को मान्यता दी गई थी। इस बात से राजस्थान सीएम गहलोत नाराज हो गये। वहीं चिन पायलट के 6 साल तक प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष को संभालने के बाद अब उन्हें हटाने की भी बातचीत चल रही है।

Next Story