Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राजस्थान में कोरोना की चेन तोड़ने संपूर्ण लॉकडाउन लगाने की तैयारी, सीएम गहलोत ने किया 5 मंत्रियों के एक समूह का गठन

माना जा रहा है कि आज देर रात से प्रदेश में संपूर्ण लॉकडाउन लगाया जा सकता है। मंत्रिपरिषद ने संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए और सख्त कदम उठाने की आवश्यकता पर बल देते हुए इसके लिए 5 मंत्रियों के एक समूह का गठन किया है।

राजस्थान में कोरोना की चेन तोड़ने संपूर्ण लॉकडाउन लगाने की तैयारी, सीएम गहलोत ने किया 5 मंत्रियों के एक समूह का गठन
X

जयपुर। राजस्थान में कोरोना वायरस भयावह रूप लेता जा रहा है। प्रदेश में स्थिति बेहद चिंताजनक बनी हुई है। प्रदेश में गहलोत सरकार की लाख कोशिशों के बावजूद कोरोना संक्रमण थमने का नाम नहीं ले रहा है जिसके बाद सरकार कोरोना की चैन तोड़ने के लिए अंतिम विकल्प के रूप में संपूर्ण लॉकडाउन जैसा कड़ा फैसला लेने की तैयारी में है। माना जा रहा है कि आज देर रात से प्रदेश में संपूर्ण लॉकडाउन लगाया जा सकता है। मंत्रिपरिषद ने संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए और सख्त कदम उठाने की आवश्यकता पर बल देते हुए इसके लिए 5 मंत्रियों के एक समूह का गठन किया है। मंत्री समूह संभावित कदमों पर विचार कर बृहस्पतिवार को अपने सुझाव देगा, जिसके आधार पर अंतिम निर्णय लिया जाएगा।हालांकि संपूर्ण लॉकडाउन का फैसला सरकार 5 सदस्यीय मंत्रिमंडल समूह की रिपोर्ट के बाद ही लेगी। मंत्री समूह की रिपोर्ट पर अब सभी की निगाहें लगी हुई हैं। हालांकि पूर्व में विशेषज्ञों के बार-बार संपूर्ण लॉकडाउन के सुझावों को दरकिनार करते आ रही थी, लेकिन इस बार कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के संपूर्ण लॉकडाउन की मांग पर गहलोत सरकार में लॉकडाउन को लेकर हलचल तेज हुई है।

शाम 6 बजे तक अपनी रिपोर्ट देगा मंत्री समूह

विश्वस्त सूत्रों की माने तो मंत्री डॉक्टर बी डी कल्ला, रघु शर्मा, गोविंद सिंह डोटासरा, शांति धारीवाल और सुभाष गर्ग वाले मंत्री समूह आज शाम 6 बजे तक संपूर्ण लॉकडाउन को लेकर अपनी रिपोर्ट मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को सौंपेगा। उसके बाद ही सरकार प्रदेश में संपूर्ण लॉकडाउन का फैसला लेगी। वही मंत्री समूह की आज दिन भर बैठकों का दौर चलेगा। मंत्री समूह वर्चुअल तौर पर अधिकारियों और विशेषज्ञों से लगातार संपूर्ण लॉकडाउन को लेकर सुझाव लेंगे और संपूर्ण लॉकडाउन लागू होने के बाद क्या परिस्थितियां बनेंगी उसके भी सुझाव अधिकारियों और विशेषज्ञों से लेंगे और उसके बाद संपूर्ण लॉकडाउन पर अपनी रिपोर्ट मुख्यमंत्री गहलोत को सौंपेंगे।

Next Story