Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कोरोना को हराना है तो केन्द्र और राज्य सरकारें मिलकर करें इस दूसरी लहर का सामना : गहलोत

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि कोविड-19 महामारी के खिलाफ अगर केन्द्र और राज्य सरकारें तथा सभी देशवासी मिलकर लड़ेंगे, तभी जीत मिलेगी।

कोरोना को हराना है तो केन्द्र और राज्य सरकारें मिलकर करें इस दूसरी लहर का सामना : गहलोत
X

अशोक गहलोत

जयपुर। पूरे देश में कोरोना वायरस के मामले (Corona Virus Cases in India) बढ़ते ही जा रहे हैं। इस घातक बीमारी ने सरकार की परेशानी तो बढ़ा ही दी है साथ ही आम लोगों के दिलों में भी दहशत का माहौल पैदा कर दिया है। वहीं राजस्थान की बात करें तो यहां भी हालात काफी नाजुक बने हुए हैं। प्रदेश सरकार की तमाम कोशिशों और लगाई गई पाबंदियों के बावजूद यहां कोरोना के मामले कम होने का नाम ही नहीं ले रहे हैं। इसी को लेकर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने कहा कि कोविड-19 महामारी के खिलाफ अगर केन्द्र (Central Government) और राज्य सरकारें (State Governments) तथा सभी देशवासी मिलकर लड़ेंगे, तभी जीत मिलेगी।

कोरोना की दूसरी लहर ने लिया भयंकर रूप

उन्होंने कहा कि महामारी की दूसरी लहर अप्रत्याशित तथा अधिक घातक है और इसने भयंकर रूप ले लिया है। इस चुनौती का सामना करने के लिए जरूरी है कि टीकाकरण को सर्वोच्च प्राथमिकता दी जाए। गहलोत मुख्यमंत्री निवास से वीडियो कांफ्रेंस (Video Conference) के माध्यम से चित्तौड़गढ़ एवं श्रीगंगानगर जिलों में राजकीय मेडिकल कॉलेजों के शिलान्यास कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री तथा केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने 325-325 करोड़ रुपये की लागत से बनाए जा रहे मेडिकल कालेजों की शिलान्यास पट्टिकाओं का वर्चुअल अनावरण किया। इस दौरान केन्द्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री अश्विनी कुमार चौबे, राज्य के चिकित्सा मंत्री डा. रघु शर्मा, चिकित्सा राज्यमंत्री डा. सुभाष गर्ग उपस्थित थे। उन्होंने कहा कि अधिकतर राज्यों ने संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए अपने स्तर पर लाकडाउन के अलग-अलग प्रतिबंध लागू किए हैं, जिससे अन्तर्राज्यीय समन्वय में कमी महसूस हो रही है। उन्होंने कहा कि ऐसे में, केन्द्र सरकार को पिछली बार के राष्ट्रव्यापी लाकडाउन के अनुभवों से सीख लेते हुए फिर से पूरे देश में एकरूपता के साथ लाकडाउन लागू करने पर विचार करना चाहिए।

ऑक्सीजन प्लांटों की संख्या बढ़ाने का किया आग्रह

गहलोत ने केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री से राज्य में डीआरडीओ (DRDO) की ओर से लगाए जा रहे ऑक्सीजन प्लांटों (Oxygen Plants) की संख्या बढ़ाने, ऑक्सीजन परिवहन के लिए अतिरिक्त टैंकर उपलब्ध कराने, राज्य को ऑक्सीजन का आवंटन देश के पूर्वी राज्यों की बजाय निकटवर्ती राज्यों से कराने का आग्रह किया। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि आज राजस्थान और पूरा देश कोविड-19 की विषम परिस्थितियों में बहुत अधिक तकलीफ से गुजर रहा है। उन्होंने कहा कि इन विषम स्थितियों का सामना करने में केन्द्र सरकार सभी राज्यों को यथा संभव संसाधनों की उपलब्धता सुनिश्चित कराने का प्रयास कर रही है। उन्होंने राज्य सरकारों को सुझाव दिया कि कोविड टीकाकरण की दूसरी डोज लगाने को भी समान प्राथमिकता दी जाए।

Next Story