Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने की मांग- राजस्थान को आयुष मिशन के तहत विशेष दर्जा दिया जाए

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राष्ट्रीय आयुष मिशन के तहत राजस्थान को विशेष दर्जा देने की अपील शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से की। उन्होंने कहा कि देश में आयुष क्षेत्र में सबसे बड़ा बुनियादी ढांचा राजस्थान में है।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने की मांग- राजस्थान को आयुष मिशन के तहत विशेष दर्जा दिया जाए
X
राजस्थान आयुष मिशन

जयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राष्ट्रीय आयुष मिशन के तहत राजस्थान को विशेष दर्जा देने की अपील शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से की। उन्होंने कहा कि देश में आयुष क्षेत्र में सबसे बड़ा बुनियादी ढांचा राजस्थान में है। उन्होंने कहा कि राज्य में 5,000 आयुष चिकित्सा केंद्र चल रहे हैं। गहलोत पांचवें आयुर्वेद दिवस पर आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री मोदी ने जयपुर के राष्ट्रीय आयुर्वेदिक संस्थान व जामनगर के आयुर्वेद अध्यापन व अनुसंधान संस्थान को देश को समर्पित किया। इसके तहत राजस्थान के राष्ट्रीय आयुर्वेद संस्थान को मानद विश्वविद्यालय की उपाधि दी गयी है। मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि राजस्थान में आयुष का सबसे बड़ा बुनियादी ढांचा है, ऐसे में उसे राष्ट्रीय आयुष मिशन के तहत विशेष दर्जा दिया जाता है तो इससे जयपुर के राष्ट्रीय आयुर्वेदिक संस्थान के मिशन को आगे ले जाने में मदद मिलेगी। गहलोत ने कहा कि मानद विश्वविद्यालय का दर्जा मिलने से आयुष के क्षेत्र में बेहतर शोध को बढ़ावा मिलेगा।

बोले- देश में आयुष मिशन में सबसे बड़ा बुनियादी ढांचा राजस्थान में

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि राष्ट्रीय आयुष मिशन के तहत राजस्थान को विशेष दर्जा मिलना चाहिए क्योंकि देश में आयुष क्षेत्र का सबसे बड़ा बुनियादी ढांचा राजस्थान में ही है। उन्होंने केंद्रार सरकार को जानकारी देते हुए बताया कि राज्य में पांच हजार आयुष चिकित्सा केंद्र चल रहे हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे में राज्य को राष्ट्रीय आयुष मिशन के तहत विशेष दर्जा दिया जाता है तो इससे जयपुर के राष्ट्रीय आयुर्वेदिक संस्थान के मिशन को आगे ले जाने में मदद मिलेगी।

Next Story