Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राजस्थान में 67 नए केस, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोरोना के खिलाफ जागरुकता अभियान शुरू

राजस्थान में 67 नए पॉजिटिव केस पाए गए हैं। वहीं, संक्रमण के बीच, गहलोत सरकार ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोरोना के खिलाफ आज से 10 दिवसीय जागरूकता अभियान शुरू किया है।

राजस्थान में 67 नए केस, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोरोना के खिलाफ जागरुकता अभियान शुरू
X
राजस्थान में 67 नए केस

राजस्थान में सोमवार को जारी रिपोर्ट में 67 नए लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है। इनमें से जयपुर में 28, धौलपुर में 10, अजमेर, झुंझुनू और कोटा में 6-6, दौसा में 5, टोंक में 2, सिरोही में 1 संक्रमित पाए गए हैं।

इसमें दूसरे राज्य से आए 3 व्यक्ति भी संक्रमित मिले। नए केस के साथ ही कुल संक्रमितों का आंकड़ा 14,997 पर पहुंच गया। हालांकि बढ़ते संक्रमण के बीच रिकवरी रेट में लगातार बढ़ोतरी देखने को मिल रही है।

पहले से मौत के आंकड़ों की रफ्तार में भी कमी देखी जा रही है। यहां अब तक कुल 10,801 से ज्यादा लोग संक्रमण से रिकवर हो चुके हैं।

कोरोना के खिलाफ आज से शुरू जागरूकता अभियान

प्रदेश में बढ़ते संक्रमण के बावजूद कुछ लोगों की लापरवाही सामने आ रही है। इसके लिए सीएम अशोक गहलोत ने आज से 10 दिवसीय कोरोना के खिलाफ जागरूकता अभियान शुरू किया है। सरकार ने सोमवार सुबह करीब 11 बजे से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए 11500 ग्राम पंचायतें को जोड़ा।

इस कॉन्फ्रेंसिंग में सीएम ने कहा कि प्रदेश मे खुद के स्वास्थ्य का खुद ख्याल रखना ही कोरोना से बचने का मुख्य उपाय है। इस बचाव के जरिए ही राजस्थान में कोरोना संक्रमण से रिकवरी दर तेजी से बढ़े और मृत्यु दर लगातार घटते चले जाए।

होम आइसोलेशन मरीजों को खुद उठाना पड़ रहा इलाज का खर्चा

वहीं, जयपुर में होम आइसोलेशन में रह रहे कोरोना संक्रमित मरीजों को इलाज का सारा खर्चा खुद ही उठाना पड़ रहा है। मरीजों का कहना है कि दवाओं के साथ थर्मामीटर और प्लस ऑक्सीमीटर भी खुद ही खरीद कर लाना पड़ रहा है।

बता दें कि राज्य सरकार ने एक निर्देश जारी किया था कि होम आइसोलेशन में रहने वाले सभी मरीजों का नि: शुल्क इलाज किया जाएगा, लेकिन यहां की व्यवस्था मरीजों के साथ जबरन वसूली की जा रही है।

कुल 33 जिले कोरोना से ग्रसित

प्रदेश (Rajasthan) में संक्रमण का कहर सबसे ज्यादा जयपुर में देखने को मिल रही है। यहां 2887 संक्रमित मरीज मिला हैं। जोधपुर में 2248 केस है, जो 47 ईरान से आए लोग शामिल है। उदयपुर में 604, कोटा में 548, अजमेर में 429, चित्तौड़गढ़ में 201, टोंक में 187, नागौर में 554, भरतपुर में 1068, बांसवाड़ा में 90, पाली में 809, जालौर में 202 मरीज पाए गए हैं। जैसलमेर में 95 केस हैं, जो 14 ईरान से आए लोग शामिल है।

Also Read-Mausam Ki Jankari: प्री- मानसून से बदला मौसम का मिजाज, 14 जिलों में येलो अलर्ट

वहीं झुंझुनूं में 96, झालावाड़ में 71, भीलवाड़ा में 122, बीकानेर में 83, मरीज मिले हैं। उधर, दौसा में 44, धौलपुर में 43, अलवर में 51, चूरू में 85, राजसमंद में 126, सिरोही में 139, हनुमानगढ़ में 14, सीकर में 139, सवाई माधोपुर में 19 मरीज मिला। इसके अलावा बाड़मेर में 91, करौली में 10, प्रतापगढ़ में 13, बूंदी में 1 और बारां में 5 संक्रमित मिले हैं। जोधपुर में बीएसएफ के 50 जवान भी पॉजिटिव मिल चुके हैं। वहीं, दूसरे राज्यों से आए 50 लोग पॉजिटिव मिले।

नए जिले में संक्रमित की मौत

राजस्थान में कोरोना से अब तक 349 लोगों की मौत हो चुकी है। इनमें से जयपुर में सबसे ज्यादा 149, जोधपुर में 30, कोटा में 19, अजमेर में 14, भरतपुर 30, नागौर में 12, पाली में 8, चित्तौड़गढ़ में 6, बीकानेर में 7, अलवर, सिरोही, सवाई माधोपुर और सीकर में 5-5 संक्रमित की मौत हुई है।

जबकि करौली और बारां में 4-4, धौलपुर और भीलवाड़ा में 3-3, चूरू, बाड़मेर, उदयपुर, दौसा, बांसवाड़ा और जालौर में 2-2, गंगानगर, झुंझुनू, राजसमंद, प्रतापगढ़ और टोंक में 1-1 की मौत हो चुकी है। इसके अलावा 26 और लोग भी शामिल हैं, जो अन्य राज्य से आए थे।


Priyanka Kumari

Priyanka Kumari

Jr. Sub Editor


Next Story