Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राजस्थान की 38 आदिवासी महिलाओें को मध्य प्रदेश के ग्रामीणों ने किया अगवा, वजह जानकर आप भी हो जाएंगे हैरान

मध्य प्रदेश के एक गांव में रहने वाले 100 से अधिक लोगों के एक समूह ने इन आदिवासी महिलाओं और बच्चों का अपहरण किया है। इन सभी को इस संदेह के आधार पर अगवा किया कि है उनके यहां के पुरुष उनकी मोटरसाइकिल चुराने में शामिल थे।

राजस्थान की 38 आदिवासी महिलाओें को मध्य प्रदेश के ग्रामीणों ने किया अगवा, वजह जानकर आप भी हो जाएंगे हैरान
X

राजस्थान की 38 आदिवासी महिलाओें को मध्य प्रदेश के ग्रामीणों ने किया अगवा

कोटा। राजस्थान की 38 आदिवासी महिलाओं को मध्य प्रदेश के ग्रामीणों ने अगवा कर लिया है। इतनी महिलाओं के एक साथ अपहरण से यह चर्चा का विषय बना हुआ है। मध्य प्रदेश के एक गांव में रहने वाले 100 से अधिक लोगों के एक समूह ने इन आदिवासी महिलाओं और बच्चों का अपहरण किया है।

इन सभी को इस संदेह के आधार पर अगवा किया कि है उनके यहां के पुरुष उनकी मोटरसाइकिल चुराने में शामिल थे। पुलिस ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी। हालांकि राजस्थान पुलिस इस अपराध के कुछ ही घंटों के भीतर बुधवार दोपहर को मध्य प्रदेश से अपहृत महिलाओं और बच्चों को छुड़ाने में कामयाब रही और छह अपहर्ताओं को गिरफ्तार कर उनके हथियार और गोला-बारूद और अपहरण के लिए इस्तेमाल की गई कार जब्त कर ली।

उनहेल थाने के एसएचओ भंवर सिंह ने बताया कि राजस्थान के झालवाड़ जिले के उनहेल थाना क्षेत्र में मध्य प्रदेश के रतलाम जिले के अलोट थाना अंतर्गत कलसिया गांव के लोगों ने आदिवासी महिलाओं के अंतरराज्यीय अपहरण का जघन्य अपराध किया। सिंह ने कहा कि कंजर जनजाति समुदाय के कई परिवार अपने पुलिस थाना क्षेत्र के अंतर्गत अंतरराज्यीय सीमा पर अस्थायी तंबूओं में रहते हैं।

उन्होंने कहा कि इन जनजातीय लोगों पर अक्सर स्थानीय लोगों द्वारा क्षेत्र में विभिन्न अपराधों में शामिल होने की आशंका जतायी जाती है। उन्होंने कहा कि सामूहिक अपहरण के इस अपराध की घटना के पीछे का कारण पड़ोसी रतलाम जिले के कलसिया गांव से संबंधित किसी की मोटरसाइकिल की चोरी थी।

Next Story