Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राजस्थान सरकार ने दिया निर्देश- निजी अस्पतालों में 10 फीसदी बिस्तर कोरोना मरीजों के लिए आरक्षित रखे जाएं

राजस्थान सरकार ने राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या में वृद्धि को देखते हुए सरकारी के साथ साथ निजी चिकित्सालयों में भी कोरोना संक्रमितों के लिये बिस्तर आरक्षित करने के निर्देश दिए हैं। स्वास्थ्य मंत्री ने इसकी जानकारी दी।

स्वास्थ्य सेवा
X
अस्पताल (प्रतीकात्मक फोटो)

राजस्थान में कोरोना वायरस (Rajasthan Corona Virus) का प्रकोप अपने चरम पर पहुंच गया है। प्रदेश में इस घातक बीमारी ने एक बार फिर से लोगों के दिलों में दहशत का माहौल पैदा कर दिया है। इसी बिगड़ती स्थिति को देखते हुए सरकार किसी भी तरह का जोखिम उठाने के मूड में नहीं दिख रही है। ऐसे में राजस्थान सरकार ने राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या में वृद्धि को देखते हुए सरकारी के साथ साथ निजी चिकित्सालयों में भी कोरोना संक्रमितों के लिये बिस्तर आरक्षित करने के निर्देश दिए हैं। स्वास्थ्य मंत्री ने इसकी जानकारी दी।

राज्य के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ रघु शर्मा (Dr Raghu Sharma) ने बताया कि राज्य में ऐसे चिकित्सालय जहां 60 या उससे अधिक संख्या में बिस्तर उपलब्ध है, उन्हें 10 फीसदी बिस्तर कोविड मरीजों के लिए आरक्षित रखने होंगे।

उन्होंने बताया कि ऐसे चिकित्सालयों को आईसीयू में उपलब्ध कुल बिस्तरों की संख्या का दस प्रतिशत कोरोना मरीजों के लिए आरिक्षत रखने के लिए कहा गया है और इन अस्पतालों में कोरोना मरीजों का उपचार विभाग द्वारा सितंबर 2020 में जारी निर्धारित दरों की अधिसूचना के अनुसार ही किया जाए। शर्मा ने बताया कि कोरोना मरीजों को प्रदेश के सरकारी व निजी चिकित्सालयों में तय दरों पर उचित सुविधा मिल सके इसके लिए विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया गया है। निजी चिकित्सालयों में दस प्रतिशत बिस्तर आरक्षित रखने के सबंध में शुक्रवार को निर्देश जारी किए गए।

Next Story