Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

स्मार्टफोन योजना : पंजाब के मंत्री ने बोले- धोखेबाजों की चाल में फंसने से बचें

पंजाब के शिक्षा मंत्री विजय इंदर सिंगला ने शुक्रवार को लोगों को आगाह करते हुए कहा कि वे ‘पंजाब स्मार्ट कनेक्ट योजना' के तहत मुफ्त में स्मार्टफोन दिलाने का वादा करने वाले धोखेबाजों की चाल में फंसने से बचे।

स्मार्टफोन योजना : पंजाब के मंत्री ने बोले- धोखेबाजों की चाल में फंसने से बचें
X
पंजाब स्मार्टफोन योजना

चंडीगढ़। पंजाब सरकार ने बच्चों के ऑनलाइन माध्यम में सहूलत देने के लिए स्मार्टफोन योजना की शुरुआत की है। कोरोना काल की वजह से स्कूल व विवि बंद हैं। सभी ऑनलाइन पढ़ाई कर रहे हैं। वो बच्चे जिनके पास लैप्टॉप व स्मार्टफोन नहीं हैं सरकार ने उनकी मदद के लिए ये योजना शुरू की है। वहीं पंजाब के शिक्षा मंत्री विजय इंदर सिंगला ने शुक्रवार को लोगों को आगाह करते हुए कहा कि वे 'पंजाब स्मार्ट कनेक्ट योजना' के तहत मुफ्त में स्मार्टफोन दिलाने का वादा करने वाले धोखेबाजों की चाल में फंसने से बचे।

व्हाट्सएप और अन्य सोशल मीडिया मंच पर प्रसारित हो रहे संदेशों को संज्ञान में लेते हुए सिंगला ने स्पष्ट किया कि यह योजना केवल सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले 12 वीं कक्षा के विद्यार्थियों के लिए है। एक आधिकारिक बयान में शिक्षा मंत्री ने कहा कि उन्हें (12वीं कक्षा के विद्यार्थियों को) स्मार्टफोन सरकारी स्कूलों में कराए पंजीकरण के आधार पर दिए जाएंगे। इसलिए, अन्य लोगों को भी योजना के तहत स्मार्टफोन देने का सवाल नहीं उठता। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने कोई वेबसाइट या सोशल मीडिया मंच अन्य लोगों को स्मार्ट फोन देने के लिए नहीं बनाया है। मंत्री ने चेतावनी देते हुए कहा कि शरारती तत्वों पर साइबर अपराध निरोधक अधिनियम के तहत सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने लोगों से स्मार्टफोन योजना में पंजीकरण करने के लिए साझा किए गए एसएमएस संदेश या वेबसाइट लिंक नहीं खोलने को कहा। गौरतलब है कि राज्य की अमरिंदर सरकार ने सरकारी स्कूलों में पढ़ रहे 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों को स्मार्टफोन देने की बहुप्रतिक्षित योजना की शुरुआत 12 अगस्त को की है।

Next Story