Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पंजाब में कृषि विधेयकों के खिलाफ उग्र हुआ प्रदर्शन, गायक व अभिनेता किसानों के समर्थन में उतरे

हाल ही में संसद में पारित कृषि संबंधी विधेयकों का विरोध कर रहे किसानों के समर्थन में हरभजन मान, सिद्धू मूसेवाला और रंजीत बावा सहित कई पंजाबी गायक और अभिनेता सामने आए।

पंजाब में कृषि विधेयकों के खिलाफ उग्र हुआ प्रदर्शन, गायक व अभिनेता किसानों के समर्थन में उतरे
X
पंजाब प्रदर्शन

चंडीगढ़। हाल ही में संसद में पारित कृषि संबंधी विधेयकों का विरोध कर रहे किसानों के समर्थन में हरभजन मान, सिद्धू मूसेवाला और रंजीत बावा सहित कई पंजाबी गायक और अभिनेता सामने आए। मूसेवाला ने मनसा में विरोध प्रदर्शन किया, जबकि हरभजन मान और रंजीत बावा नाभा में विरोध प्रदर्शन में शामिल हुए। पंजाब के किसान शुक्रवार को विवादास्पद कृषि विधेयक के विरोध में कई संगठनों द्वारा किए गए "बंद" के आह्वान पर सड़कों पर उतर आए। हरभजन मान ने कहा कि वे कृषि को बचाने के लिए किसी भी हद तक जाएंगे। उनके साथ गायक और कलाकार रंजीत बावा, तारसेम जस्सर और कुलविंदर बिल्ला थे। सभा को संबोधित करते हुए बावा ने किसानों को कृषि विधेयक के खिलाफ अपना विरोध तेज करने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि वे भी इन विधेयकों को लेकर किसानों के जितना ही परेशान हैं। बावा ने कहा कि सरकार को विधेयकों का मसौदा तैयार करने से पहले किसानों की मंजूरी लेनी चाहिए थी।

सिद्धू मूसेवाला ने अन्य कलाकारों के साथ मनसा जिले में विरोध प्रदर्शन किया और युवाओं से विधेयकों का विरोध करने की अपील की। मूसेवाला ने कहा कि पूरे देश में केवल छह प्रतिशत किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य मिल रहा है। उन्होंने मांग की कि "किसान विरोधी" विधेयकों को वापस लिया जाए। उन्होंने कहा कि वह पंजाब में किसान के साथ कोई भी "अन्याय" नहीं होने देंगे। कुछ कलाकारों ने सोशल मीडिया पर भी किसानों का समर्थन किया।

पंजाब में 29 सितंबर तक जारी रहेगा 'रेल रोको' आंदोलन

किसान मजदूर संघर्ष समिति ने पंजाब में 'रेल रोको' आंदोलन 29 सितंबर तक बढ़ाने की शुक्रवार को घोषणा की। यह आंदोलन कृषि संबंधी तीन विधेयकों के विरोध में किया जा रहा है। पहले, तीन दिन का आंदोलन 26 सितंबर को खत्म होना था। समिति के अध्यक्ष सतनाम सिंह पन्नू ने फोन पर बताया कि हमने आंदोलन 29 सितंबर तक बढ़ाने का फैसला किया है। हम चाहते हैं कि सरकार कृषि विधेयकों के मुद्दे का समाधान निकाले। 'रेल रोको' आंदोलन बृहस्पतिवार से आरंभ हुआ था जिसके चलते राज्य में विशेष यात्री रेलगाड़ियों के संचालन को रोकना पड़ा था। रेलवे के अधिकारियों ने पहले कहा था कि 24 सितंबर से 26 सितंबर के बीच 14 विशेष रेलगाड़ियों का संचालन निलंबित रहेगा।

Next Story