Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पंजाब कृषि विधेयकों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन, रेलवे को हुआ 1,670 करोड़ रुपये का नुकसान

पंजाब में केंद्र सरकार द्वारा लाए गए नए कृषि विधेयकों के खिलाफ किसानों का विरोध प्रदर्शन बवाल मचा रहा है। इन विरोध प्रदर्शनों की वजह से प्रदेश में कई समस्याएं उत्पन्न हो गई हैं। वहीं किसानों के विरोध की वजह से रेलवे को भी भारी नुकसान झेलना पड़ा है।

पंजाब कृषि विधेयकों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन : रेलवे को 1,670 करोड़ रुपये का हुआ नुकसान
X

भारतीय रेलवे

नई दिल्ली। पंजाब में केंद्र सरकार द्वारा लाए गए नए कृषि विधेयकों के खिलाफ किसानों का विरोध प्रदर्शन बवाल मचा रहा है। इन विरोध प्रदर्शनों की वजह से प्रदेश में कई समस्याएं उत्पन्न हो गई हैं। वहीं किसानों के विरोध की वजह से रेलवे को भी भारी नुकसान झेलना पड़ा है। पंजाब में किसानों के विरोध प्रदर्शन की वजह से भारतीय रेल को सिर्फ मालभाड़े से होने वाली आय में 1,670 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। किसानों के विरोध को 50 दिन हो चुके हैं और इसके चलते 1,986 यात्री रेलगाड़ियां और 3,090 मालगाड़ियां रद्द हुई हैं। सूत्रों ने सोमवार को कहा कि राज्य में रेलगाड़ियों का परिचालन अभी भी निलंबित है।

रोजाना 36 करोड़ मालभाड़े का नुकसान

रेलवे ने प्रदर्शनकारियों के सिर्फ मालगाड़ियां शुरू करने के प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया। इससे भारतीय रेल को रोजाना 36 करोड़ मालभाड़े के नुकसान का अनुमान है। एक अक्टूबर और 15 नवंबर के बीच रेलवे को मालगाड़ियां रद्द होने के चलते मालभाड़े का नुकसान हुआ हैं। इसमें से कई गाड़ियों में जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को भेजी जाने वाली अनिवार्य सामग्रियां हैं और यह पंजाब के बाहर खड़ी हैं। सूत्रों ने कहा कि पंजाब के पांच बिजली घरों को 520 रैक कोयले की आपूर्ति नहीं की जा सकी जिसके चलते भारतीय रेल को 550 करोड़ रुपये का नुकसान हआ।

अन्य माल में इस्पात के 110 रैक (अनुमानित 120 करोड़ रुपये का नुकसान), सीमेंट के 170 रैक (अनुमानित 100 करोड़ रुपये का नुकसान), क्लिंकर के 90 रैक (अनुमानित 35 करोड़ रुपये का नुकसान), खाद्यान्नों के 1,150 रैक (अनुमानित 550 करोड़ रुपये का नुकसान), उवर्रक के 270 रैक (अनुमानित 140 करोड़ रुपये का नुकसान) और पेट्रोलियम इत्यादि के (अनुमानित 40 करोड़ रुपये का नुकसान) से लदी मालगाड़ियां फंसी हुई हैं।

Next Story