Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अमृतसर से ISI के दो जासूस गिरफ्तार, भारतीय सेना से जुड़ी खुफिया जानकारी भेजते थे पाकिस्तान

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, गिरफ्तार किए गए दोनों लोगों पर आरोप है कि वे ये भारतीय सेना (Indian Army) से जुड़ी खुफिया जानकारियां पाकिस्तान (Pakistan) भेजते थे। पंजाब पुलिस (Punjab Police) ने इन जासूसों की गिरफ्तारी की पुष्टि की है।

अमृतसर से ISI के दो जासूस गिरफ्तार, भारतीय सेना से जुड़ी खुफिया जानकारी भेजते थे पाकिस्तान
X

पाकिस्तानी सुरक्षा एजेंसी (Pakistani Security Agency) और बॉर्डर पार बैठे आतंकवादी संगठन (terrorist organization) के सरगना भारत को अशांत करने की साजिशों में जुटे हैं। इसी बीच पंजाब के अमृतसर (terrorist organization) से आईएसआई (ISI) के दो जासूसों को गिरफ्तार किया गया है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, गिरफ्तार किए गए दोनों लोगों पर आरोप है कि वे ये भारतीय सेना (Indian Army) से जुड़ी खुफिया जानकारियां पाकिस्तान (Pakistan) भेजते थे। पंजाब पुलिस (Punjab Police) ने इन जासूसों की गिरफ्तारी की पुष्टि की है। पुलिस ने बताया कि दोनों के खिलाफ ऑफिसियल सीक्रेट एक्ट ( Official Secrets Act) के तहत केस दर्ज किया गया है।

पंजाब पुलिस के अनुसार, खुफिया जानकारी मिलने के बाद स्टेट स्पेशल ऑपरेशन सेल अमृतसर के अधिकारियों ने अमृतसर से दो जासूसों को गिरफ्तार किया। गिरफ्तार किए गए जासूसों की पहचान पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता (Kolkata) के जफर रियाज (Zafar Riyaz) और बिहार के मोहम्मद शमशाद (Mohammad Shamshad) के रूप हुई है। दोनों पर भारतीय सेना से जुड़ी जानकारियों को पाकिस्तान (Pak) भेजने का आरोप है। मोहम्मद शमशाद बिहार (Bihar) के मधुबनी जिले के भेजा का रहने वाला है और यह अमृतसर रेवले स्टेशन के बाहर नींबू-पानी की दुकान लगाता है।

जबकि जफर रियाज पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता के बेनियापुकुर (Beniyapukur) का रहने वाला है। मीडिया में आईं खबरों के अनुसार, साल 2005 में जफर रियाज ने एक पाकिस्तानी महिला राबिया (Pakistani Woman Rabia) से शादी की थी। सात के करीब 7 साल बाद दोंनो पाकिस्तान के लाहौर (Lahore) चले गए। यहां पर आईएसआई ने रिजाय को लालच देकर जासूसी (spying) करवाना शुरू कर दिया। जफर का भारत आना जाना लगा रहता है। जफर रियाज को भारत के संवेदनशील स्थानों की फोटो और वीडियो को शूट करते हुए पकड़ा है।

वहीं बिहार का रहना वाला शमशाद अमृतसर के मीराकोट चौक (Mirakot Chowk) पर एक भवन में रेंट पर रहता है। जफर ने शमशाद को जासूसी में अपना सहयोगी बनाया। खबरों से मिली जानकारी के अनुसार, दोनों ने पूछताछ के दौरान भारत की संवेदनशील स्थानों की फोटोग्राफी (photography) करने का जुर्म कबूल लिया है। इसके अलावा इन्होंने फोटो और वीडियो आईएसआई को भेजने की बात को भी कबूल किया है। हालांति, अभी दोनों से पूछताछ की जा रही है।

और पढ़ें
Next Story