Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पंजाब कांग्रेस ने कृषि विधेयकों के खिलाफ किया प्रदर्शन, बोले- इन विधेयकों से किसान समुदाय हो जाएगा 'बर्बाद'

पंजाब कांग्रेस ने सोमवार को राज्य में तीन कृषि विधेयकों के खिलाफ प्रदर्शन किया। पार्टी का आरोप है कि इन विधेयकों से किसान समुदाय 'बर्बाद' हो जाएगा। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने 'किसान विरोधी' विधेयकों को लेकर भाजपा नीत केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की और केंद्र सरकार के पुतले जलाए।

पंजाब कांग्रेस ने कृषि विधेयकों के खिलाफ किया प्रदर्शन, बोले- इन विधेयकों से किसान समुदाय हो जाएगा
X
पंजाब कांग्रेस का प्रदर्शन

चंडीगढ़। पंजाब में संसद में केंद्र सरकार द्वारा पारित हुए तीन कृषि विधेयकों के खिलाफ प्रदर्शन बढ़ता ही जा रहा है। यहां किसान इन विधेयकों के विरोध में सड़कों पर उतरे हुए हैं। वहीं प्रदेश सरकार भी इन विधेयकों का विरोध कर रही है। पंजाब कांग्रेस ने सोमवार को राज्य में तीन कृषि विधेयकों के खिलाफ प्रदर्शन किया। पार्टी का आरोप है कि इन विधेयकों से किसान समुदाय 'बर्बाद' हो जाएगा। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने 'किसान विरोधी' विधेयकों को लेकर भाजपा नीत केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की और केंद्र सरकार के पुतले जलाए। पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने फतेहगढ़ साहिब के बस्सी पठाना में विरोध प्रदर्शन का नेतृत्व किया और राजग सरकार की निंदा की। उन्होंने कहा कि इन विधेयकों से किसान तबाह हो जाएंगे।

जाखड़ ने वादा किया कि उनकी पार्टी किसान समुदाय के हितों की रक्षा के लिए हर संभव कदम उठाएगी। जाखड़ ने पंजाब की विपक्षी पार्टी शिरोमणि अकाली दल (शिअद) पर हमला बोलते हुए कहा कि किसानों में प्रस्तावित विधेयकों के खिलाफ गुस्सा देखते हुए पार्टी ने 'यू-टर्न' लिया। उन्होंने कहा कि इससे पहले वे इन विधेयकों को हित में बताकर किसानों को गुमराह कर रहे थे। जाखड़ ने कहा कि वह खुश हैं कि सभी किसान संगठन इन विधेयकों का विरोध करने के लिए साथ आए हैं। किसान संगठनों ने इन विधेयकों के खिलाफ 25 सितंबर को 'पंजाब बंद' का आह्वान किया है। होशियारपुर में राज्य मंत्री सुंदर शाम अरोड़ा ने शिअद नेता हरसिमरत कौर बादल के इस्तीफे को 'राजनीतिक पैतराबाजी' करार देते हुए सवाल किया है कि उन्होंने तब क्यों नहीं पद छोड़ा था जब मोदी सरकार यह अध्यादेश लेकर आई थी। उन्होंने कहा कि हम सब किसानों के साथ हैं।

Next Story