Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

स्कॉलरशिप स्कैम मामले से गरामाई राजनीति : बाजवा ने अमरिंदर सिंह पर लगाए आरोप, जानिए पूरा मामला

पंजाब में कांग्रेस के सबसे सीनियर नेता और राज्यसभा सांसद प्रताप सिंह बाजवा और मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के बीच तल्खियां बढ़ती जा रही हैं। बाजवा ने पोस्ट मैट्रिक स्कॉलशिप स्कैम के आरोप में कैबिनेट मंत्री साधु सिंह धरमसोत से इस्तीफे की मांग की थी।

स्कॉलरशिप स्कैम मामले से गरामाई राजनीति : बाजवा ने अमरिंदर सिंह पर लगाए आरोप, जानिए पूरा मामला
X
बाजवा अमरिंदर सिंह

चंडीगढ़। पंजाब में कांग्रेस के सबसे सीनियर नेता और राज्यसभा सांसद प्रताप सिंह बाजवा और मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के बीच तल्खियां बढ़ती जा रही हैं। बाजवा ने पोस्ट मैट्रिक स्कॉलशिप स्कैम के आरोप में कैबिनेट मंत्री साधु सिंह धरमसोत से इस्तीफे की मांग की थी। इस पर अमरिंदर सिंह ने कोलतार घोटाले का हवाला देते हुए बाजवा को घेरने की कोशिश की। अब बाजवा ने इस पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। प्रताप सिंह बाजवा ने कहा कि ये दोनों मामले बिल्कुल अलग हैं। ऐसे में इनकी तुलना करने का कोई तुक नहीं बनता। एक बयान में प्रताप सिंह बाजवा ने कहा कि कैप्टन को ये नहीं भूलना चाहिए कि साधु सिंह पर लगाए गए आरोप किसी राजनीतिक पार्टी के नेता या व्यक्ति ने नहीं लगाए। उन पर लगाए जा रहे ये आरोप उनके अपने विभाग से संबंधित हैं और आईपीएस अधिकारी की उच्च स्तरीय जांच और तथ्यों पर आधारित हैं। बाजवा ने आगे कहा कि अनुसूचित जाति के गरीब बच्चों की भलाई के लिए आए करोड़ों रुपये का कॉलेजों से कोई हिसाब न मिलना अपने आप में बहुत बड़ा घपला है। ऐसे में जब तक इन आरोपों का सामना करने वाले मंत्री साधु सिंह अपने पद पर बने रहेंगे, तब तक मामले की निष्पक्ष जांच नहीं हो सकेगी। इसी वजह से हाईकोर्ट से समयबद्ध जांच कराने की मांग की गई थी, ताकि सच्चाई सबके सामने आए।

वहीं आप ने पंजाब सरकार का फूंका पुतला

पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप स्कीम में हुए घोटाले ने विपक्षी राजनीतिक पार्टियों को एक बार फिर से सरकार के खिलाफ लामबंद होने का मौका दे दिया है। सोमवार को यहां जिला प्रशासकीय परिसर के सामने आम आदमी पार्टी (आप) के वरिष्ठ सदस्य एवं पंजाब विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष हरपाल सिंह चीमा ने कैबिनेट मंत्री साधु सिंह धर्मसोत का इस्तीफा मांगा और पूरे प्रकरण की हाईकोर्ट के मौजूदा जज या सीबीआई से जांच करवाने की मांग की। इस मौके पर आम आदमी पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने पंजाब सरकार का पुतला फूंका और प्रशासन को ज्ञापन सौंपा।

Next Story