Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

लंबे समय बाद राजनीति में फिर सक्रिय होते दिखेंगे सिद्धू, कृषि विधेयकों के खिलाफ किसानों के साथ बैठेंगे धरने पर

लंबे समय राजनीति से दूर कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू एक बार फिर से सियासी गतिविधियों में सक्रिय होते दिखेंगे। उन्होंने लंबे समय से राजनीति से दूरियां बनाई हुई थीं। अब उनके राजनीति में सक्रिय होने की सबसे बड़ी वजह संसद में पारित हुए तीन कृषि विधेयकों के पारित होने की बताई जा रही है।

लंबे समय बाद राजनीति में फिर सक्रिय होते दिखेंगे सिद्धू, कृषि विधेयकों के खिलाफ किसानों के साथ बैठेंगे धरने पर
X
नवजो सिंह सिद्धू

चंडीगढ़। लंबे समय राजनीति से दूर कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू एक बार फिर से सियासी गतिविधियों में सक्रिय होते दिखेंगे। उन्होंने लंबे समय से राजनीति से दूरियां बनाई हुई थीं। अब उनके राजनीति में सक्रिय होने की सबसे बड़ी वजह संसद में पारित हुए तीन कृषि विधेयकों के पारित होने की बताई जा रही है।

नवजोत सिंह सिद्धू भी किसानों के साथ उनके धरने में बैठेंगे। हालांकि इस बारे में सिद्धू ने कोई खुलासा नहीं किया है कि कब से ऐसा करेंगे, लेकिन उनके निकटवर्ती रहे और कांग्रेस के विधायक परगट सिंह ने कहा है कि सिद्धू किसानों के धरनों में शामिल होंगे।

परगट ने कहा कि मेरी उनसे बात हुई थी और उन्होंने मुझसे कहा कि आने वाले दिनों में जहां-जहां भी किसानों का आंदोलन होगा वह उसमें शामिल होंगे। काबिलेगौर है कि तीन दिन पहले नवजोत सिंह सिद्धू ने किसानों की संघर्ष को समर्थन दिया था। पूरे सवा साल बाद ट्विटर पर सक्रिय होते हुए उन्होंने किसानों के मुद्दे पर शायराना अंदाज में टिप्पणी की। लिखा कि जंग की तूती बोल रही है। उन्होंने लिखा कि पंजाब, पंजाबियत और हर पंजाबी किसान के साथ है।

उधर, किसानों के 25 सितंबर के पंजाब बंद के आह्वान को समर्थन देगा आम आदमी पार्टी

पंजाब में मुख्य विपक्षी आम आदमी पार्टी ने सोमवार को 25 सितंबर के किसानों के राज्यव्यापी बंद का समर्थन करने की घोषणा की है। कृषि संबंधी तीन विधेयकों के खिलाफ किसानों ने यह बंद बुलायी है। आम आदमी पार्टी ने बयान जारी कर बताया कि आम आदमी पार्टी की पंजाब इकाई ने कृषि विरोधी कानून के खिलाफ किसानों के 25 सितंबर के राज्य व्यापी बंद के आह्वान का पूर्ण समर्थन करने की घोषणा की है।' कृषि संबंधी तीन विधेयकों के खिलाफ पंजाब के कम से कम 30 किसान संगठनों ने 25 सितंबर को प्रदेशव्यापी बंद का आह्वान किया है।

Next Story