Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पंजाब में प्रदर्शन कर रहे किसानों ने विरोध स्वरूप कमीजें उतारीं, यूथ कांग्रेस ने निकाली ट्रैक्टर रैली

पंजाब के अमृतसर शहर में रेल पटरी पर प्रदर्शन कर रहे किसानों के एक समूह ने संसद से पारित कृषि विधेयकों के खिलाफ शनिवार को विरोध स्वरूप कमीजें उतार दीं। बिना कमीज रेल की पटरी पर बैठे प्रदर्शनकारियों ने भाजपा नीत केन्द्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कृषि विधेयकों को वापस लेने की मांग की।

पंजाब में प्रदर्शन कर रहे किसानों ने विरोध स्वरूप कमीजें उतारीं, यूथ कांग्रेस ने निकाली ट्रैक्टर रैली
X
किसानों का प्रदर्शन

चंडीगढ़। पंजाब के अमृतसर शहर में रेल पटरी पर प्रदर्शन कर रहे किसानों के एक समूह ने संसद से पारित कृषि विधेयकों के खिलाफ शनिवार को विरोध स्वरूप कमीजें उतार दीं। बिना कमीज रेल की पटरी पर बैठे प्रदर्शनकारियों ने भाजपा नीत केन्द्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कृषि विधेयकों को वापस लेने की मांग की। किसान मजदूर संघर्ष समिति के तहत प्रदर्शन कर रहे ये किसान 24 सितंबर से अमृतसर के देवीदासपुरा गांव के निकट रेल की पटरी पर बैठे हैं। किसान मजदूर संघर्ष समिति के महासचिव सरवण सिंह पंढेर ने फोन पर से कहा कि किसानों ने सरकार तक अपनी आवाज पहुंचाने के लिये विरोधस्वरूप अपने कुर्ते और कमीजें उतार दी हैं। समिति ने शुक्रवार को घोषणा की थी कि वह अपने तीन दिवसीय 'रेल रोको' आंदोलन को तीन दिन के लिये बढ़ा रही हैं। अब 26 से 29 सितंबर के बीच भी उनका आंदोलन जारी रहेगा।

उधर, यूथ कांग्रेस ने शनिवार को शहर में किसानों के हक में ट्रैक्टर रैली निकाली। यूथ कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला भी फूंका। यूथ कांग्रेस जालंधर शहरी के प्रधान अंगद दत्ता के नेतृत्व में यूथ कांग्रेसियों ने केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की और आरोप लगाया कि कृषि विधेयक किसानों को बर्बाद करने की साजिश है। अंगद दत्ता ने कहा कि केंद्र सरकार कुछ खास कारोबारी घरानों को फायदा पहुंचाने के लिए ही काम कर रही है। उन्होंने कहा कि कृषि क्षेत्र में कारोबारियों का प्रवेश खतरनाक साबित होगा। यूथ कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला भी फूंका। यूथ कांग्रेस जालंधर शहरी के प्रधान अंगद दत्ता के नेतृत्व में यूथ कांग्रेसियों ने केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की।

Next Story