Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पंजाब जहरीली शराब मामला: मरने वालों की संख्या 110 पहुंची, कांग्रेस सांसद ने की सीबीआई-ईडी जांच की मांग

पंजाब में जरीली शराब कांड का मामला बहुत भयानक स्थिति धारण करता जा रहा है। यहां अब तक जहरीली शराब पीने से 110 लोगों की मौत हो चुकी है।

जहरीली शराब मामला
X
जहरीली शराब कांड

चंडीगढ़। पंजाब में जरीली शराब कांड का मामला बहुत भयानक स्थिति धारण करता जा रहा है। यहां अब तक जहरीली शराब पीने से 110 लोगों की मौत हो चुकी है। अधिकारियों ने जानकारी देते हुए बताया कि तरन तारन में तीन की लोगों की मौत हुई, गुरदासपुर के बटाला में दो की और अमृतसर में एक व्यक्ति की मौत हुई। बुधवार शाम से जारी इस त्रासदी में अब तक तरनतारन जिले में सबसे अधिक 83 लोगों की मौत हुई है।

वहीं इस मामले में कांग्रेस के दो सांसदों ने राज्य में पार्टी नीत सरकार पर निशाना साधा और शराब की 'अवैध' बिक्री की सीबीआई एवं ईडी से जांच कराने के लिए राज्यपाल को एक ज्ञापन सौंपा। राज्य में हाल ही में हुई इस घटना में 110 लोगों की मौत हो गई है। राज्य सभा सदस्य प्रताप सिंह बाजवा और शमशेर सिंह ढुलो ने राज्य प्रशासन पर स्पष्ट रूप से नाकाम रहने का आरोप लगाया तथा दावा किया कि यदि मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने अवैध शराब के कारोबार की शिकायतों पर समय रहते कार्रवाई की होती, तो यह घटना टल सकती थी। राज्यपाल वी पी सिंह बदनौर से मुलाकात के बाद कांग्रेस नेता बाजवा ने कहा कि उन्होंने राज्य में शराब की कथित अवैध बिक्री की सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) से जांच कराने की मांग की है। दोनों सांसदों ने कहा कि कांग्रेस सरकार द्वारा समय रहते कार्रवाई नहीं किये जाने के चलते यह त्रासदी तो होने ही वाली थी। ढुलो ने कहा कि यदि मुख्यमंत्री ने समय रहते कार्रवाई की होती तो जहरीली शराब कांड नहीं होता...हम 2017 से यह मुद्दा उठा रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि लॉकडाउन के दौरान अवैध शराब की धड़ल्ले से अंतरराज्यीय तस्करी हुई।

दोनों नेताओं ने कहा कि वे कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मिलेंगे और उसके बाद यह मुद्दा प्रधानमंत्री तथा केंद्रीय गृह मंत्री के समक्ष उठाएंगे। बाजवा ने कहा कि लोगों की मौत होने का मुद्दा हम संसद में भी उठाएंगे।

Next Story