Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

लुधियाना के डीसीपी बोले, लॉकडाउन के दौरान आत्महत्या और घरेलू हिंसा के मामले बढ़े, बताया सुसाइड का कारण

लुधियाना के डीसीपी अखिल चौधरी ने कहा कि लुधियाना में लॉकडाउन के दौरान आत्महत्या और घरेलू हिंसा के मामले बढ़े हैं। यहां पर इस साल लॉकडाउन से पहले 60 आत्महत्या और 850 घरेलू हिंसा की शिकायतें मिलीं हैं।

लुधियाना के डीसीपी बोले, लॉकडाउन के दौरान आत्महत्या और घरेलू हिंसा के मामले बढ़े, बताया सुसाइड का कारण
X
डीसीपी अखिल चौधरी

कोरोना वायरस की वजह से लागू लॉकडाउन में आत्महत्या और घरेलू हिंसा के मामले बढ़े हैं। इस बात की जानकारी पंजाब के डीसीपी अखिल चौधरी ने दी है। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, लुधियाना के डीसीपी अखिल चौधरी ने कहा कि लुधियाना में लॉकडाउन के दौरान आत्महत्या और घरेलू हिंसा के मामले बढ़े हैं। यहां पर इस साल लॉकडाउन से पहले 60 आत्महत्या और 850 घरेलू हिंसा की शिकायतें मिलीं हैं। जबकि लॉकडाउन के बाद के बाद 100 आत्महत्या और 1500 घरेलू हिंसा की शिकायतें मिलीं हैं।

आत्महत्या के पीछे का क्या है कारण

प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि आत्महत्या के पीछे अवसाद, बेरोजगारी और वित्तीय समस्याएं हैं। यह भी देखा गया है कि 30से 40 साल आयु वर्ग के लोगों में आत्महत्या की प्रवृत्ति बढ़ रही है।



जानकारी के लिए आपको बता दें कि देश में लगातार कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या में बढ़ोत्तरी को देखे हुए पूरे देश में लॉकडाउन लागू किया गया। ताकि कोरोना के प्रसार को रोक जा सके। लेकिन लॉकडाउन की वजह से देश में आर्थिक स्थिति ज्यादा डाउन हो गई थी। जिस कारण लॉकडाउन में कुछ शर्तों के पूरी तरह ढील दे दी गई है। ढील के बाद देश में लगातार कोरोनावायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है देशभर में 5 लाख 29 हजार के पार कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या पहुंच गई है।

Next Story