Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पंजाब में ट्रेन सेवाओं का निलंबन : अमरिंदर सिंह ने अमित शाह से की हस्तक्षेप की मांग, बोले- संचालन के लिए स्थिति अनुकूल

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमिरंदर सिंह केंद्र सरकार से ट्रेन सेवाओं की बहाली के लिए हस्तक्षेप की मांग की है। सिंह ने राज्य में मालगाड़ियों की सुगम और सुरक्षित आवाजाही का अपना आश्वासन भी दोहराते हुए कहा कि राज्य में ट्रेनों के संचालन के लिए स्थिति अनुकूल है।

पंजाब में ट्रेन सेवाओं का निलंबन : अमरिंदर सिंह ने अमित शाह से की हस्तक्षेप की मांग, बोले- संचालन के लिए स्थिति अनुकूल
X

अमरिंदर सिंह

चंडीगढ़। पंजाब में केंद्र सरकार द्वारा लाए गए नए कृषि विधेयको को लेकर विरोध उग्र होता जा रहा है। प्रदेश में हालत यह है कि किसानों के विरोध प्रदर्शन की वजह से किसान रेल की पटरियों पर डेरा डाले हुए हैं। ट्रेन संचालन प्रभावित हो रहा है। इस मुद्दे पर पंजाब सरकार और रेलवे के बीच विवाद भी छिड़ा हुआ है। इसी मुद्दे के समाधान के लिए पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमिरंदर सिंह केंद्र सरकार से ट्रेन सेवाओं की बहाली के लिए हस्तक्षेप की मांग की है। सिंह ने राज्य में मालगाड़ियों की सुगम और सुरक्षित आवाजाही का अपना आश्वासन भी दोहराते हुए कहा कि राज्य में ट्रेनों के संचालन के लिए स्थिति अनुकूल है। बता दें कि रेलवे ने शनिवार को पंजाब में मालगाड़ियों की आवाजाही बहाल करने से इनकार करते हुए कहा कि या तो वह मालगाड़ी और यात्री ट्रेनों, दोनों का परिचालन करेगा, अन्यथा नहीं करेगा। पंजाब में 24 सितंबर से ट्रेन सेवाएं निलंबित चल रही हैं, जब से किसान केंद्रीय कानूनों के खिलाफ 'रेल रोको' आंदोलन चला रहे हैं।

किसान संगठनों ने 21 अक्टूबर को मालगाड़ियों को अपने 'रेल रोको' आंदोलन से छूट देने की घोषणा की थी जिसके बाद कुछ समय के लिए मालगाड़ियों का परिचालन हुआ लेकिन रेलवे ने फिर से इन्हें निलंबित करते हुए कहा कि किसान अब भी पटरियों को अवरुद्ध कर रहे हैं। मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने शनिवार को शाह से बात की और उन्हें भरोसा दिलाया कि पंजाब और पड़ोसी राज्यों में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति के लिए मालगाड़ियों की सेवा की बहाली पर रोक के लिए कानून व्यवस्था संबंधी कोई वजह नहीं है। उन्होंने कहा कि ये सारे राज्य ट्रेनें निलंबित होने की वजह से बड़े नुकसान का सामना कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हालांकि मालगाड़ियों को तत्काल बहाल नहीं करने के रेलवे के फैसले की वजह से बर्फबारी से पहले अगर आवश्यक वस्तुएं लद्दाख तथा कश्मीर में सशस्त्र बलों तक नहीं पहुंचीं तो देश के लिए सुरक्षा संबंधी चिंताएं गंभीर हो सकती हैं। सिंह ने इस संबंध में भ्रम फैलाये जाने का दावा करते हुए कहा कि किसानों ने मालगाड़ियों के परिचालन के लिए सारी पटरियां खाली कर दी हैं। उन्होंने गृह मंत्री से कहा कि जमीन पर हालात पूरी तरह शांतिपूर्ण हैं और माल की सुरक्षित ढुलाई के लिए अनुकूल हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि आंदोलनकारी किसानों ने पंजाब के किसी हिस्से में शांति बाधित नहीं की है।

Next Story