Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पंजाब जहरीली शराब कांड: पीड़ित परिवारों से मिले अमरिंदर, बोले- दोषियों को कड़ी सजा दी जाएगी

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिन्दर सिंह ने शुक्रवार को जहरीली शराब कांड के पीड़ित परिवारों से तरन तारन जिले में मुलाकात की और कहा कि यह कोई दुर्घटना नहीं बल्कि ‘हत्या' है और दोषियों को कड़ी सजा दी जाएगी।

पंजाब जहरीली शराब कांड: पीड़ित परिवारों से मिले अमरिंदर, बोले- दोषियों को कड़ी सजा दी जाएगी
X
अमरिंदर सिंह

चंडीगढ़। पंजाब में जहरीली शराब कांड तूल पकड़ता जा रहा है। राज्य में अब तक जहरीली शराब पीने से 121 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं इस मामले को लेकर प्रदेश में राजनीतिक हलचल भी तेज हो गई हैं। इसी बीच पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिन्दर सिंह ने शुक्रवार को जहरीली शराब कांड के पीड़ित परिवारों से तरन तारन जिले में मुलाकात की और कहा कि यह कोई दुर्घटना नहीं बल्कि 'हत्या' है और दोषियों को कड़ी सजा दी जाएगी। सिंह ने कहा कि तरन तारन में आठ और लोगों की मौत के बाद जहरीली शराब कांड में मरने वालों की संख्या 121 हो गई है। जहरीली शराब से तरन तारन में 92, अमृतसर में 15 और गुरदासपुर में 14 लोगों की जान गई है। तरन तारन में पीड़ितों के परिवारों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि इसमें शामिल किसी व्यक्ति को बख्शा नहीं जाएगा। इसमें संलिप्त हरेक व्यक्ति के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। सिंह ने परिवारों से भी बात की और दोषियों के खिलाफ उठाए गए कदमों की जानकारी ली।

मुख्यमंत्री के साथ वहां पहुंचे राज्य कांग्रेस अध्यक्ष सुनील झाकड़ ने मृतकों के परिवारों को दी जाने वाली मुआवजा राशि दो लाख रुपये से बढ़ाकर पांच लाख रुपये करने की घोषणा की। उन्होंने इस हादसे में आंखों की रोशनी गंवाने वालों को भी पांच लाख रुपये मुआवजा देने की घोषणा की। सिंह ने पीड़ितों के परिवारों से कहा कि यह 'मानव-निर्मित' त्रासदी है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि यह दुर्घटना नहीं लेकिन हत्या है। क्योंकि जब कोई ऐसी चीज (जहरीली शराब) बनाता है तो उसे पता होता है कि इससे लोगों की जान जा सकती है। इसलिए मेरा मानना है कि यह हत्या है।

उधर, पंजाब पुलिस ने नकली शराब बनाने के ठिकानों का किया भंडाफोड़

पंजाब पुलिस ने राज्यभर में की गई कार्रवाई के तहत अवैध शराब बनाने के कई ठिकानों का भंडाफोड़ किया। पुलिस ने कहा कि उन्होंने पिछले चौबीस घंटों में 135 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया और 197 नए मामले दर्ज किए। हाल ही में नकली शराब से हुई त्रासदी के बाद यह कार्रवाई की गई।

Next Story