Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मेडिकल कॉलेजों में एमबीबीएस छात्रों के लिये अब योग अनिवार्य, जानिए क्या है राष्ट्रीय चिकित्सा आयोग की योजना

राष्ट्रीय चिकित्सा आयोग ( एनएमसी) ने मेडिकल कॉलेजों में एमबीबीएस छात्रों के लिये योग अनिवार्य कर दिया है! इसके तहत जून 2022 में दस दिनों के लिये रोजाना एक घण्टे तक एमबीबीएस छात्रों को मेडिकल कॉलेज में ही योग ट्रेनिंग दी जावेगी। प्रोटोकॉल भी तैयार कर लिया गया है।

मेडिकल कॉलेजों में एमबीबीएस छात्रों के लिये अब योग अनिवार्य, जानिए क्या है राष्ट्रीय चिकित्सा आयोग की योजना
X

राष्ट्रीय चिकित्सा आयोग ने मेडिकल कॉलेजों में एमबीबीएस छात्रों के लिये योग की ट्रेनिंग अनिवार्य की।

भोपाल। राष्ट्रीय चिकित्सा आयोग ( एनएमसी) ने मेडिकल कॉलेजों में एमबीबीएस छात्रों के लिये योग अनिवार्य कर दिया है! इसके तहत जून 2022 में दस दिनों के लिये रोजाना एक घण्टे तक एमबीबीएस छात्रों को मेडिकल कॉलेज में ही योग ट्रेनिंग दी जावेगी। प्रोटोकॉल भी तैयार कर लिया गया है।

देश भर के मेडिकल कालेजों में लागू होगा

राजधानी भोपाल, जबलपुर, ग्वालियर, इंदौर, रीवा मध्यप्रदेश समेत जयपुर, पटना, रायपुर, दिल्ली समेत पूरे देश भर के मेडिकल कॉलेजों में यह होगा। आयुष मेडिकल एसोसिएशन के राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ राकेश पाण्डेय ने इसे विश्व योग दिवस से जोड़कर कहा कि ये छात्रों के स्वास्थ्य हित में उठाया बेहेतरीन कदम है। इसका विरोध नहीं होना चाहिये। एलोपैथिक डॉक्टर्स हों, डेंटल या आयुष डॉक्टर्स - सभी मिलकर योग करें व जनमानस को योग के प्रति भरोसे के साथ प्रोत्साहित करें। प्रदेश समेत देशभर में साढ़े चार सौ से ज्यादा मेडिकल कॉलेज संचालित हैं।

और पढ़ें
Next Story