Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

किसान से कार किराए पर चलाने के नाम पर ली, फिर ये किया

- शातिर जालसाज ने एक किसान की कार को किराये पर सरकारी विभाग में चलाने का अनुबंध करने के बाद ले ली और बेच दी। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ जालसाजी व अन्य धाराओं में केस कायम करके उसकी तलाश तेज कर दी है।

किसान से कार किराए पर चलाने के नाम पर ली, फिर ये किया
X

हरिभूमि न्यूज- भोपाल। टीटी नगर थाना क्षेत्र में धोखाधड़ी से अमानत में खयानत करने का मामला सामने आया है। यहां एक शातिर जालसाज ने एक किसान की कार को किराये पर सरकारी विभाग में चलाने का अनुबंध करने के बाद ले ली और बेच दी। मामला करीब डेढ़ माह पुराना बताया जाता है। सोमवार को पुलिस ने बताया कि फरियादी की शिकायत पर धोखाधड़ी और अमानत में खयानत का प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

टीटी नगर पुलिस के मुताबिक रामस्वरूप मीना खजूरी सड़क के रहने वाले हैं और किसान हैं। उन्होंने कुछ माह पहले ही स्विफ्ट कार खरीदी है। किसी परिचित के माध्यम से होशंगाबाद रोड स्थित श्रीराम कॉलोनी में रहने वाले ऋतुराज विश्वकर्मा से मुलाकात हो गई। ऋतुराज ट्रेवल्स का कार्य करता है और कई लोगों से नई कारें सरकारी विभागों में किराये पर चलाने के नाम पर ले चुका है।

कार को किराये पर चलाने का अनुबंध किया :

ऋतुराज ने फरियादी रामस्वरूप मीना से अक्टूबर महीने में कार को एक सरकारी विभाग में किराये पर चलाने का अनुबंध किया। अनुबंध करने के बाद फरियादी ने कार ऋतुराज विश्वकर्मा को दे दी। अनुबंध के अनुसार कार भोपाल में ही चलानी थी, लेकिन जब कई-कई दिनों तक कार फरियादी को नहीं दिखी तो उन्होंने पूछताछ शुरू कर दी। जालसाज कार बाहर जाने का हवाला देकर उन्हें बरगलाता रहा।

कार का अनुबंध करके बेच देता है :

कुछ दिन पहले फरियादी को पता चला कि ऋतुराज कई लोगों से किराये पर चलाने के लिए कार लेकर बेच देता है, इसके बाद फरियादी अपनी कार वापस मांगने लगे। तब उसने कार लौटाने से मना कर दिया। सौदा टीटी नगर थाना क्षेत्र में हुआ था, इसलिए इसकी शिकायत के बाद टीटी नगर पुलिस ने धोखाधड़ी और अमानत में खयानत का प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने बताया कि आरोपी पर कई लोगों की कारों को किराये पर लेकर बेचने के आरोप हैं, लेकिन अभी तक थाने में एक ही शिकायत मिली है। पुलिस आरोपी के गिरफ्तारी के प्रयास शुरू कर दिए हैं।

------------

Next Story