Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

युवक ने घर की परेशानी से तंग होकर काट ली हाथ की नस, हो गया बेहोश, पुलिस ने बचाई जान

युवक ने घरेलू परेशानियों से तंग होकर ब्लैड से अपने हाथ की नस को काट लिया। जिससे उसके हाथ से खून की तेज धार बह निकली। लोगों ने देखा कि यह युवक तो आत्महत्या कर रहा है। इसकी सूचना तत्काल पुलिस थाना बागसेवनिया को दी गई। मिनी एफआरव्ही चार्ली से तत्काल मौके पर पहुंचे प्रधान आरक्षक व साथी सिपाही।

युवक ने घर की परेशानी से तंग होकर काट ली हाथ की नस, हो गया बेहोश, पुलिस ने बचाई जान
X

एम्स में नस कटने से गंभीर हालत में पहुंचे युवक का इलाज कराती पुलिस

भोपाल। बागसेवनिया थाना इलाके के साकेत नगर गुरुद्वारा के पास एक युवक ने बुधवार की शाम को अपने हाथ की नस बुरी तरह से काट ली। जिससे काफी खून बह निकला। वह बेहोश हो गया। ऐसे में लोगों ने पुलिस को थाने पर सूचना दी। फोन कॉल सुनते ही तत्काल मिनी एफआरव्ही, जो बाइक पर चार्ली पार्टी होती है, को सूचना मिलते ही एक प्रधान आरक्षक व एक आरक्षक ने मौके पर पहुंचकर युवक को एम्स पहुंचाया। इसके बाद तत्काल युवक का इलाज शुरु हुआ और पुलिस मौके पर मौजूद रही, फिर आगे की कार्रवाई की गई।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक बुधवार को साकेत नगर इलाके में करन पवार नामक युवक ने अपनी घरेलू परेशानियों से तंग होकर ब्लैड से अपने हाथ की नस को काट लिया। युवक भानपुर खंती क्षेत्र का रहने वाला है, जो पहले साकेत नगर में रहता था। जिससे उसके हाथ से खून की तेज धार बह निकली। लोगों ने देखा कि यह युवक तो आत्महत्या कर रहा है। इसकी सूचना तत्काल पुलिस थाना बागसेवनिया को दी गई। जहां से तुरंत सूचना मिनी एफआरव्ही यानी चार्ली टीम के प्रधान आरक्षक उपेंद्र सिंह व आरक्षक रवि चौरसिया को मिली। दोनों ने अपनी बाइक थाने से बताए घटनास्थल की ओर दौड़ा दी। तुरंत मौके पर पहुंचकर दोनों ने युवक को उठाया और एम्स लेकर गए। अस्पताल में समय से इलाज मिल जाने के कारण युवक की जान बच गई।

देर हो जाती तो दिक्कत हो जाती :

प्रधान आरक्षक उपेंद्र राजावत ने हरिभूमि को बताया कि समय पर सूचना मिल जाने से हम लोग तत्काल मौके पर पहुंच गए थे। अगर सूचना मिलने या हम लोगों के मौके पर पहुंचने में देर होती तो युवक की जान को खतरा हो सकता था। क्योंकि वह तो खुद ही आत्महत्या का प्रयास कर रहा था।

युवक से अभी नहीं हो सकी है ज्यादा पूछताछ :

यहां बता दें कि युवक का इलाज एम्स में चल रहा है, लेकिन खून ज्यादा बह जाने के कारण अभी पुलिस ने उससे विस्तृत पूछताछ नहीं की है। युवक ने आत्महत्या करने का प्रयास क्यों किया, इस संबंध में उससे पुलिस गहराई से सवाल करेगी। अगर किसी ने उसे ऐसा करने के लिए प्रेरित किया होगा तो पुलिस तत्संबंधी कार्रवाई करेगी।

------------

और पढ़ें
Next Story