Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अब मास्क नहीं लगाने पर होगा जुर्माना, इंटरस्टेट बार्डर पर विशेष निगरानी

मंदिरों में एक बार में 5 से अधिक व्यक्ति न जाएं, भोपाल में सर्वाधिक प्रकरण आए, मुख्यमंत्री ने दिए निर्देश। पढ़िए पूरी खबर-

अब मास्क नहीं लगाने पर होगा जुर्माना, इंटरस्टेट बार्डर पर विशेष निगरानी
X

भोपाल। मध्यप्रदेश में भी मास्क नहीं पहनने पर अब जुर्माना लगाया जाएगा। जनता को मॉस्क पहनने, फिजिकल डिस्टेंसिंग रखने, भीड़ न लगाने आदि के लिए जागरू‍क करने को कहा जाए। जो भी लोग इस नियम का पालन नहीं करते, ऐसे लोगों के खिलाफ जुर्माने की कार्रवाई की जाए। बाहर से आने वाले लोगों की हेल्थ स्क्रीनिंग करने व इंटरस्टेट बार्डर पर विशेष निगरानी करने को कहा गया है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को मंत्रालय में कोरोना की समीक्षा में उक्त निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना के बढ़ते हुए प्रकरणों को देखते हुए सभी जिलों में कोरोना संबंधी गाइडलाइन का सख्ती से पालन कराया जाए। जिलों में प्रभारी अधिकारी एवं सभी कलेक्टर्स कोरोना रणनीति आईआईटीटी (आईडेंटिफाई, आयसोलेट, टेस्ट एण्ड ट्रीट) का प्रभावी क्रियान्वयन करें। जिन जिलों में टेस्टिंग कम है, वहां टेस्टिंग बढ़ाई जाए। जिलों की परिस्थिति अनुरूप होम क्वारेंटाइन व संस्थागत क्वारेंटाइन किया जाए। उन्होंने कहा कि कोरोना अस्पतालों में सर्वोत्तम इलाज किया जाए। जनता को मास्क पहनने, फिजिकल डिस्टेंसिंग रखने, भीड़ न लगाने आदि के लिए जागरू‍क किया जाए तथा ऐसा न करने पर जुर्माने आदि की कार्रवाई की जाए।

इंटरस्टेट बॉर्डर पर करें निगरानी

छतरपुर जिले की समीक्षा में पाया गया कि 7 दिनों में 113 कोरोना के नए मरीज मिले हैं। उन्होंने इंटरस्टेट बॉर्डर पर निरंतर निगरानी करने के निर्देश दिए। बाहर से आने वालों की हैल्थ स्क्रीनिंग अनिवार्य रूप से की जाए। जिले में खनिज के अवैध परिवहन को भी सख्ती से रोके जाने के मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए। जिले में अभी 210 पॉजीटिव तथा 113 एक्टिव मरीज हैं, 95 मरीज स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं। बड़वानी जिले की समीक्षा में पाया गया कि 7 दिनों में 95 नए केस आए हैं। जिले की टेस्टिंग प्रति दिन 3843 है, जबकि मप्र की 8150 व्यक्ति प्रतिदिन है।

भोपाल में सर्वाधिक प्रकरण आए

कोरोना की जिलेवार समीक्षा में पाया गया कि प्रदेश में सर्वाधिक 177 नए प्रकरण भोपाल में आए है। इसके बाद इंदौर में 99, ग्वालियर में 63, मुरैना में 49, छतरपुर में 30, जबलपुर में 28, विदिशा में 25, उज्जैन में 24, नीमच में 20, बड़वानी में 20, झाबुआ में 18, रीवा में 17 तथा होशंगाबाद में 16 नए मरीज मिले हैं। दमोह में 25 टैस्ट में 13 नए पॉजीटिव मरीज मिले हैं। मुख्यमंत्री ने इन सभी जिलों को विशेष सावधानी बरतने के निर्देश दिए।

मंदिरों में एक बार में 5 से अधिक व्यक्ति न जाएं

सतना जिले की समीक्षा में पाया गया कि मैहर में नए प्रकरण आ रहे हैं। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि इस बात का सभी जिले ध्यान दें कि मंदिरों एवं उपासना स्थलों में एक बार में 5 से अधिक व्यक्ति न जाएं।

मुख्यमंत्री ने की जनता से अपील

मुख्यमंत्री ने प्रदेश की जनता से अपील की है कि वे कोरोना वायरस के संक्रमण चेन तोड़कर इसे पराजित करने में अपना-अपना सहयोग प्रदान करें। फिलहाल पार्टियां और समारोह आयोजित न हों। घरों में भी फिजिकल डिस्टेंसिंग और स्वच्छता से रहते हुए संक्रमण की चेन को हर स्थिति में तोड़ा जाए। लॉकडाउन से अनलॉक की स्थिति में आने के बाद जुलाई माह में कोरोना वायरस के पॉजीटिव प्रकरण निरंतर बढ़े हैं, जो चिंता का विषय है। तीन-चार माह से किए जा रहे प्रयास वायरस को नियंत्रित कर रहे थे। आमजन के सहयोग से काफी सफलता भी प्राप्त हुई, लेकिन अब वर्तमान स्थिति को देखते हुए पुन: पूरी सावधानी और गाइडलाइन का पालन करने की आवश्यकता है।

और पढ़ें
Next Story