Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

MP: सेल्समैन से कैरियर की शुरुआत, अब करोड़ों का आसामी, ये है EOW छापे की पूरी कहानी

24 साल पहले सेल्समैन से नौकरी शुरू करने वाले सहकारी समिति के प्रबंधक के पास करोड़ो की संपत्ति किन स्रोतों से आई, इसकी जांच जारी है। पढ़िए पूरी खबर-

MP: सेल्समैन से कैरियर की शुरुआत, अब करोड़ों का आसामी, ये है EOW छापे की पूरी कहानी
X

रीवा। मध्यप्रदेश के रीवा में सहकारी समिति प्रबंधक के घर में ईओडब्ल्यू का छापा पड़ा है। आय से अधिक संपत्ति के मामले में की गई इस कार्रवाई में प्रबंधक के ठिकाने से कई कागजात और जेवर आदि की जब्ती की गई है।

वीरेन्द्र जैन पुलिस अधीक्षक आर्थिक अपराध प्रकोष्ठ रीवा ने बताया कि आर्थिक अपराध प्रकोष्ठ मुख्यालय भोपाल से एक शिकायत प्राप्त हुई थी, जिसमें शिकायतकर्ता ने राजेश त्रिपाठी पिता वृषध्वज त्रिपाठी निवासी ग्राम ताला तहसील अमरपाटन जिला सतना, हाल प्रबंधक सेवा सहकारी समिति मर्या, ताला, तहसील अमरपाटन जिला सतना के विरुद्ध अनुपातहीन संपत्ति अर्जित करने के आरोप लगाये थे। शिकायतकर्ता के मुताबिक, राजेश त्रिपाठी वर्ष 1996 से सेवा सहकारी समिति ताला में सेल्स मैन के पद पर एवं वर्ष 2015 से समिति प्रबंधक के पद पर लगातार भ्रष्टाचार कर रहा है और अनाज वितरण, खाद वितरण एवं मिट्टीतेल वितरण में गबन कर आम जनता को शासन द्वारा दिए जाने वाले लाभ से वंचित रखता है। शिकायत के सत्यापन में आय से अधिक संपत्ति होना प्रथम दृष्टया पाई जाने से अनावेदक द्वारा पद का दुरुपयोग करते हुए विक्रेता एवं समिति प्रबंधक के पद में रहकर अनुपातहीन संपत्ति अर्जित करने से थाना आर्थिक अपराध प्रकोष्ठ भोपाल में धारा 120 बी भादवि , 13 ( 1 ) बी एवं 13 ( 2 ) भ्रानि.अ . संशोधन अधिनियम 2018 के अन्तर्गत अपराध कमाक 38/2020 पंजीबद्ध किया जाकर विवेचना में लिया गया। आज दिनांक 24.11.2020 को सर्च वारण्ट लेकर सुबह ईओडब्ल्यू की टीम द्वारा आरोपी के ग्राम खैरी तहसील हुजूर जिला रीवा एवं ग्राम पोस्ट ताला तहसील अमरपाटन स्थित निवास पर छापा मारकर सर्च कार्यवाही की गई। सर्च कार्यवाही के दौरान आरोपी के दोनों मकानों से 01 इटिओस कार, 05 प्लॉट की रजिस्ट्रिया , 02 घर , 02 मोटरसाइकिल, लाखों की बीमा पॉलिसियां एवं लगभग 3,50,000 रुपए की ज्वैलरी प्राप्त हुई है। इस प्रकार आरोपी के पास से अभी तक की कार्यवाही में लगभग 01 करोड़ से अधिक की संपत्ति प्राप्त हुई है। जबकि आरोपी की सेवा अवधि में ज्ञात स्त्रोतों से कुल आय 6,21,646 रुपए हुई है।

Next Story