Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मेट्रीमोनियल साइट पर हुई थी पहचान, शादी करने का था प्लान

पूर्व वन मंत्री उमंग सिंघार के बंगले पर रविवार दोपहर आत्महत्या करने वाली उनकी दोस्त सोनिया को सोमवार को पीएम कराया गया। पीएम के बाद उनका अंतिम संस्कार कोलार के सनखेड़ी विश्राम घाट पर उनके बेटे आर्यन द्वारा किया गया। अंतिम संस्कार में सोनिया का बेटा और मां समेत उमंग सिंघार पहुंचे थे।

मेट्रीमोनियल साइट पर हुई थी पहचान, शादी करने का था प्लान
X

भोपाल. पूर्व वन मंत्री उमंग सिंघार के बंगले पर रविवार दोपहर आत्महत्या करने वाली उनकी दोस्त सोनिया को सोमवार को पीएम कराया गया। पीएम के बाद उनका अंतिम संस्कार कोलार के सनखेड़ी विश्राम घाट पर उनके बेटे आर्यन द्वारा किया गया। अंतिम संस्कार में सोनिया का बेटा और मां समेत उमंग सिंघार पहुंचे थे। उमंग सिंघार सोनिया की मां को गले लगाने के बाद भावुक हो गए। पुलिस ने सोनिया के बेटे आर्यन के बयान लिए हैं। बयान में आर्यन से आत्महत्या की वजह पूछी गई, लेकिन आर्यन ने साफ तौर पर कह दिया कि मां ने किसी भी परेशानी का जिक्र नहीं किया था। वह एक महीने से भोपाल में ही थी। उनके फोन और वीडियो कॉलिंग आती रहती थी। पूरे मामले में उमंग सिंघार ने कहा है कि दोनों परिवार शादी के लिए तैयार थे और तैयारियां चल रही थी, जल्द ही शादी भी होने वाली थी। उन्होंने कहा कि पारीवारिक मामले में राजनीति की जा रही है। सत्ता पक्ष के दबाव में आकर पुलिस बार-बार शोकाकुल परिवार को परेशान कर रही है।

उमंग सिंघार बोले मनोचिकित्सक के पास हो चुका था इलाज

पुलिस उमंग सिंघार के बयान ले चुकी है। उन्होंने भी शादी का जिक्र किया है। हालांकि शादी कब होनी थी इसे लेकर उन्होंने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी। उनका कहना है कि पुलिस की जांच में वह पूरी मदद करेंगे। इसके अलावा उन्होंने यह भी बताया कि उनकी एक दिन पहले ही सोनिया से बातचीत हुई थी। सोनिया ने किसी तरह की परेशानी का जिक्र नहीं किया था। उन्होंने बताया कि केयर टेकर गणेश भी बातचीत की थी। गण्ोश से पूछा था कि मैडम खाना ठीक से खा रही है तो उसने बताया था कि हां ठीक से खाना खा रही है। पुलिस की पूछताछ में यह बात भी सामने आई कि सोनिया ने पहले पति को छोड़ दिया था। दूसरी शादी करने के बाद भी जल्द ही रिश्ता टूट गया। इसके बाद सोनिया और विधायक उमंग सिंघार मेटरमोनियल साइट से 2 साल से संपर्क में थे।

परिजन को दिखाया सुसाइड नोट

पुलिस परिजन को सुसाइड नोट दिखा चुकी है। इसके अलावा पुलिस सुसाइड नोट की हेंड राइटिंग एक्सपर्ट से भी जांच करा रही है। सोनिया भारद्वाज के बेटे ने बताया कि मेटरमोनियल साइट पर मां और विधायक उमंग सिंघार की पहचान हुई थी। दोनों परिवार के लोग शादी के लिए तैयार थे। मां अक्सर भोपाल आती थी। एक दिन पहले ही मां ने हम लोगों से वीडियो कॉलिंग पर बात की थी। वह किसी तरह से परेशान नजर नहीं आ रही थी। मरने से पूर्व सोनिया द्वारा लिखे गए सुसाइड नोट से आत्महत्या की वजह साफ नहीं हो सकी है। साथ ही सोनिया के परिजन भी पुलिस को कोई ठोस वजह नहीं बता रहे हैं।

Next Story