Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

भोपाल स्टेशन की तस्वीर बदलने पर जोर,रेलवे अधिकारियों ने बनाया नया प्लान

राजधानी में रानीकमलापति रेलवे स्टेशन को विश्वस्तरीय सुविधा से लैस करने के बाद अब भोपाल स्टेशन की तस्वीर बदलने जा रही है। दरअसल बजट 2022 में भी रेलवे को विभिन्न विकास कामों के लिए राशि जारी की गई है।

भोपाल स्टेशन की तस्वीर बदलने पर जोर,रेलवे अधिकारियों ने बनाया नया प्लान
X

भोपाल। राजधानी में रानीकमलापति रेलवे स्टेशन को विश्वस्तरीय सुविधा से लैस करने के बाद अब भोपाल स्टेशन की तस्वीर बदलने जा रही है। दरअसल बजट 2022 में भी रेलवे को विभिन्न विकास कामों के लिए राशि जारी की गई है। इसके तहत अब मंडल भोपाल स्टेशन को भी नया स्वरूप में विकसित करने में जुट गया है। इसको लेकर नया प्लान बनाया गया है। जिससे यात्रियों की सुविधा में इजाफा होगा। इसकी शुरूआत सेंकड एंट्री पर रेलवे की चार पाहिया पार्किंग से होने जा रही है। मार्च माह से पार्किंग को शुरू की जा सकती है। इससे 6,5 व 4 नंबर प्लेटफार्म से चलने वाली राज्यरानी, विंध्याचल, भोपाल-जोधपुर एक्सप्रेस, भोपाल-बीना मेमू, भोपाल-प्रतापगढ़, बिलासपुर एक्सप्रेस के करीब 16 हजार से अधिक यात्रियों को लाभ मिल सकेगा।

वाहन पार्क करना होगा आसान

यात्री इस पार्किंग में मुख्य नई बिल्डिंग और पार्सल कार्यालय की ओर से प्रवेश कर सकेंगे। रेलवे ने पूर्व से प्लेटफॉर्म छह की तरफ चारपहिया पार्किंग नहीं होने के कारण नई पार्किंग बनाने का निर्णय लिया है। यात्री आसानी से प्लेटफार्म के पास में अपने वाहन को पार्क कर आसानी से ट्रेन पकड़ सकेंगा। उल्लेखनीय है कि इसके पहले छह नंबर प्लेटफार्म की पार्किंग रेलवे यार्ड के पास में होने से यात्रियों को वाहन पार्क करने में खासी परेशानी का सामना करना पड़ता था। सीनियर डीसीएम विजय प्रकाश ने बताया कि यात्रियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए, पार्सल कार्यालय के पास खाली पड़ी जगह में पार्किंग शुरू करने की योजना है। इसको लेकर टेंडर प्रक्रिया चल रहा है। जल्द ही यह सुविधा यात्रियों को मिल सकेगी। यह पूरी तरह सुव्यवस्थित व आधुनिक पार्किंग रहेगी। जिसमें कैमरे व कम्प्यूटराईज पर्ची यात्रियों को मिल सकेगी।

500 वाहन तक खड़े हो सकेंगे

भोपाल रेल मंडल द्वारा प्लेटफॉर्म 6 की तरफ 25 स्क्वायर मीटर खाली जगह को चिन्हित कर लिया है। यहां पूर्व से शेड की व्यवस्था है। यहीं पर पार्किंग में वाहन खड़े करने वाले यात्रियों के लिए शौचालय की व्यवस्था की जाएगी। पार्किंग में 500 से अधिक चारपहिया वाहनों को खड़ा किया जा सकेगा।

और पढ़ें
Next Story